Home / More / नर्मदापुरम संभाग के कमिश्नर रजनीश श्रीवास्तव ने बुधवार 21 अक्टूबर को कमिश्नर कार्यालय

नर्मदापुरम संभाग के कमिश्नर रजनीश श्रीवास्तव ने बुधवार 21 अक्टूबर को कमिश्नर कार्यालय

होशंगाबाद – नर्मदापुरम संभाग के कमिश्नर रजनीश श्रीवास्तव ने बुधवार 21 अक्टूबर को कमिश्नर कार्यालय के सभाकक्ष में प्राकृतिक एवं जैविक कृषि कर रहे कृषक मानसिंह गुर्जर एवं रूप सिंह राजपूत से चर्चा की। इस दौरान वरिष्ठ कृषि वैज्ञानिक डॉक्टर के के मिश्रा एवं उप संचालक कृषि जितेंद्र सिंह उपस्थित रहे। कमिश्नर श्रीवास्तव ने कहा कि वर्तमान परिदृश्य में जैविक खेती एक अच्छा विकल्प है। उन्होंने कहा जैविक खेती को अधिक से अधिक प्रोत्साहित किया जाए। उन्होंने जिले के कृषको से आग्रह किया कि वे स्वयं के उपयोग हेतु अपनी कृषि भूमि के कम से कम 5% भाग में जैविक खेती अवश्य करें।वरिष्ठ कृषि वैज्ञानिक डॉ के के मिश्रा ने बताया कि जैविक कृषि मिट्टी की गुणवत्ता एवं स्वास्थ्य के दृष्टिकोण से लाभदायक है। ग्राम गरघा विकासखण्ड बनखेड़ी निवासी कृषक मान सिंह गुर्जर ने बताया कि वह पिछले 10 वर्षों से अपनी 16 एकड़ भूमि पर प्राकृतिक खेती कर रहे हैं। वे प्राकृतिक खेती से ज्यादा लाभ प्राप्त कर पा रहे है। वे बीज उपचार के लिए जीवामृत, घनजीवामृत एवं कीट प्रबंधन के लिए ब्रह्मास्त्र और अग्नस्त्रा का प्रयोग कर रहे हैं। जैविक खेती के माध्यम से  सब्जी एवं अनाज के उत्पादन के साथ-साथ उनकी आय में भी वृद्धि हुई है। वे उत्पादित सब्जियों एवं अनाजों का  बड़े शहरों भोपाल , इंदौर ,दिल्ली आदि  बड़े शहरों में विक्रय करते है।
प्रदीप गुप्ता की रिपोर्ट

About आंखें क्राइम पर

Avatar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*