Breaking News
Home / More / तवा बांध से 22 अक्टूबर से बाई तट मुख्य नहर में पानी छोड़े जाने के निर्णय

तवा बांध से 22 अक्टूबर से बाई तट मुख्य नहर में पानी छोड़े जाने के निर्णय

होशंगाबाद , तवा बांध से 22 अक्टूबर से बाई तट मुख्य नहर में पानी छोड़े जाने के निर्णय का गुरुवार 22 अक्टूबर को संभागीय जल उपयोगिता समिति की बैठक में अनुमोदन किया गया। कमिश्नर नर्मदापुरम संभाग रजनीश श्रीवास्तव की अध्यक्षता में कमिश्नर कार्यालय के सभाकक्ष में संभागीय स्तरीय जल उपयोगिता समिति की बैठक आयोजित की गई। बैठक में कलेक्टर होशंगाबाद धनंजय सिंह ,कलेक्टर बैतूल राकेश सिंह, कलेक्टर हरदा संजय गुप्ता, मुख्य अभियंता तवा परियोजना राकेश अग्रवाल, अधीक्षण यंत्री तवा परियोजना एस के सक्सेना,अधीक्षण यंत्री बैतूल प्रमोद कुमार बरूआ, उपसंचालक कृषि जितेंद्र सिंह, महाप्रबंधक एम पी एस ई बी, बी. बी. एस.परिहार , उपस्थित रहे। बैठक में तवा परियोजना दाई तट मुख्य नहर में  5 नवम्बर से पानी  छोड़े जाने तथा डोकरिखेडा मध्यम योजना से आवश्यकतानुसार पानी छोड़ने का निर्णय लिया गया।बैठक में बताया गया इस वर्ष हुई अच्छी बारिश से तवा बांध की जल भराव क्षमता 100 प्रतिशत है। रबी सिंचाई के लिए नहरों की  साफ सफाई का कार्य पूरा कर लिया गया है। कमिश्नर नर्मदापुरम ने जल संसाधन विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया की  नहरों की मरम्मत एवं रखरखाव पर विशेष ध्यान दिया जाए तथा लगातर फील्ड निरीक्षण करें। किसी भी प्रकार के समन्वय के मुद्दों को जिला कलेक्टर एवं वरिष्ठ अधिकारियों के संज्ञान में लाए तथा उनका निराकरण कराएं। कमिश्नर ने एस ई एमपीईबी को सिंचाई हेतु निर्धारित प्रोटोकॉल अनुसार बिजली की आपूर्ति सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने बड़े बकायेदारों को चिन्हित कर वसूली की कार्यवाही करने के निर्देश विद्युत विभाग एवं जलसंसाधन  विभाग के अधिकारियों को दिए। बैठक में अधीक्षण यंत्री एस के सक्सेना ने बताया कि तवा परियोजना से वर्ष 2020-21 में जिला होशंगाबाद में तवा वृहद  परियोजना से 159277 हेक्टेयर ,  डोकरीखेड़ा मध्यम परियोजना से 2900 हेक्टेयर एवं 12 लघु योजनाओं से 2083 हैक्टेयर इस प्रकार कुल 164260  हैक्टेयर सिंचाई लक्ष्य प्रस्तावित है। हरदा में तवा वृहद परियोजना से 102254 एवं 3 लघु योजनाएं से 2775 इस तरह कुल 105029 हेक्टेयर लक्ष्य प्रस्तावित है। तवा परियोजना मंडल होशंगाबाद अन्तर्गत हरदा एवं होशंगाबाद जिले में कुल 269289 हेक्टेयर सिंचाई लक्ष्य रखा गया है। होशंगाबाद जिले में तवा बांध की बाई तट  मुख्य नहर से 99937 हैक्टेयर एवं तवा दाई तट मुख्य नहर से 59340 हेक्टेयर क्षेत्र में पलेवा एवं  तीन पानी आवश्यकता अनुसार रबी सिंचाई हेतु दिया जाना प्रस्तावित है। जिले के सोहागपुर ,पिपरिया विकासखंड में मध्यम /लघु जलाशयों से रबी सिंचाई हेतु कुल 3391 हेक्टेयर एवं विकास खंड केसला की 9 लघु  योजनाओं से 1592 हेक्टेयर रकबा प्रस्तावित है।अधीक्षण यंत्री जल संसाधन बैतूल प्रमोद कुमार बरूआ ने बताया कि बैतूल जिले में सभी लघु एवं मध्यम परियोजनाओं की जलभराव क्षमता 91 प्रतिशत है। 7 मध्यम एवं 172 लघु परियोजनाओं से कुल 68770 हेक्टेयर सिंचाई प्रस्तावित है।
प्रदीप गुप्ता की रिपोर्ट

About आंखें क्राइम पर

Avatar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*