Breaking News
Home / More / थ्रेशर मशीन में फंसकर हुई एक मजदूर की दर्दनाक मौत

थ्रेशर मशीन में फंसकर हुई एक मजदूर की दर्दनाक मौत

थ्रेशर मशीन में फंसकर हुई एक मजदूर की दर्दनाक मौत

मृतक बंधु पण्डो पिता लछुमन पण्डो उम्र लगभग 30 वर्ष जाति पण्डो विशेष पिछड़ी जनजाति ।
ग्रामपंचायत विमला पुर पोस्ट सलवाही पुलिस चौकी डिण्डो थाना त्रिकुण्डा रामचंद्र पुर ब्लॉक तहसील रामानुजगंज जिला बलरामपुर का निवासी था ।
दिनांक – 26-10-2020 दिन सोमवार को धान फसल से संबंधित काम करवाने के लिए धर्मजीत पोया विमला पुर निवासी के द्वारा अपने घर खेत से कटकर लाया हुआ धान का फसल खलिहान में रखा हुआ था जिसे थेरेशर मशीन ट्रैक्टर गाड़ी सहित किराये पर लाया गया था ट्रैक्टर इंजन एवं थेरेशर मशीन रसीद खान विमला पुर निवासी का था। धर्मजीत पोया विमला पुर निवासी के द्वारा बंधु पण्डो को मजदूरी में काम करने के लिए बुलाया था समय लगभग 4:30 pm की घटना है बंधु पण्डो थेरेसर मशीन से काम कर रहा था तभी मशीन के अंदर फसल फंस जाने के कारण बंधु पण्डो फसल साफ करना चाहा जिसके दौरान बंधु पण्डो स्वंय मशीन के अंदर फंस गया बंधु पण्डो का पूरा शरीर मशीन के अंदर घुसकर फंस गया था जिससे पूरा शरीर मशीन से कटकर अलग-अलग हो गया है मौके पर ही मौत हो गया। इस घटना का जानकारी मृतक का भाई संधु पण्डो के द्वारा पुलिस चौकी डिण्डो में दिया गया।
आज दिनांक 27-10-2020 को मृतक बंधु पण्डो का मशीन में फंसे लाश को बाहर निकाला गया और पुलिस चौकी डिण्डो के द्वारा पंचनामा तैयार कर लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।
विशेष जनजाति समाज के प्रतीनिधि उदय पंडो मशीन और ट्रैक्टर ड्राइवर का लापरवाही था ट्रैक्टर ड्राइवर अगर सही से काम किया होता तो आज बंधु पण्डो का जान नहीं जाता।
ग्रामीण क्षेत्रों में अधिकतर गाड़ी मालिक हो या मशीन मालिक इनके द्वारा कुशल मशीन एवं गाड़ी चलाने वाला ड्राईवर नहीं रखते हैं जिस ड्राईवर से काम कराया जाता है उन ड्राइवरों के पास ड्राईवरी लाईसेंस नहीं होता है कुछ दिन मशीन या गाड़ी चलाने सिखकर दूसरे का गाड़ी चलाने का काम करने लगते हैं। इस प्रकार के ड्राइवरों से गाड़ी मालिकों का गाड़ी या मशीन चलवाने में फायदा होता है क्योंकि कुशल चालक का वेतन नहीं देना पड़ता है बिना लाइसेंस वाले ड्राइवरों को बहुत कम वेतन देकर अपना काम कराया जाता है जिसके कारण ग्रामीण क्षेत्रों में अधिकतर इस प्रकार का एक्सीडेंट का मामला सामने आया करता है। इस प्रकार के जितने भी मामले हैं जिनमें अप्रशिक्षित गाड़ी चालकों के द्वारा गाड़ी मालिक अपना मशीन या गाड़ी चलवाने का काम कर रहे हैं उनके ऊपर भी कड़ी कानूनी कार्रवाई करने की आवश्यकता है क्योंकि कुशल ड्राईवर न रखकर काम चलाने के लिए कम वेतन में बिना लाइसेंस वाले ड्राइवरों को रखा जाता है इसमें पूरा गलती गाड़ी मालिकों का है मृतक का मूवावजा राशि गाड़ी मालिकों से भरवाना चाहिए।

About आंखें क्राइम पर

Avatar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*