Breaking News
Home / More / यमुना नदी के घाट पर अवैध बालू खनन के मामले में खनन अधिकारी पूरी तरह से फेल हो चुके हैं

यमुना नदी के घाट पर अवैध बालू खनन के मामले में खनन अधिकारी पूरी तरह से फेल हो चुके हैं

कौशांबी* यमुना नदी के घाट पर अवैध बालू खनन के मामले में खनन अधिकारी पूरी तरह से फेल हो चुके हैं यमुना नदी के जिस घाट पर जब मर्जी हुई तो बालू माफिया अवैध खनन में जुट जाते हैं बार-बार शिकायत के बाद भी यमुना नदी से अवैध खनन बंद नहीं हो रहा है निर्धारित स्थान पर खनन की बात तो छोड़िए यमुना नदी तराई की पूरी बेल्ट को बालू माफिया खनन कर रहे हैं इतना ही नहीं बीच नदी के पानी से बालू खनन पर पूरी तरह से प्रतिबंध है फिर भी यमुना नदी की जलधारा के बीच से बालू का खनन माफियाओं द्वारा बराबर किया जाता है शिकायत के बाद खनन और पुलिस विभाग के अधिकारी लुका छुपी का खेल माफियाओ के साथ खेलते हैं और आला अधिकारियों को गुमराह कर खनन बंद करने की सूचना देकर फिर खनन शुरू करा देते हैं खनन विभाग का यह खेल में कई वर्षों से बेखौफ तरीके से जिले में चल रहा है

ताजा मामला चायल तहसील क्षेत्र के थाना पिपरी अंतर्गत पुलिस चौकी लोधौर के ग्राम सेवढ़ा के तकिया में यमुना नदी के बीच जलधारा से अवैध बालू खनन का मामला है यमुना नदी के बीच जलधारा से प्रतिदिन बालू माफियाओं द्वारा अवैध खनन किया जाता है बार-बार शिकायत के बाद खनन अधिकारी इस अवैध खनन से इंकार कर रहे हैं इससे उनकी मंशा भी सवालों के घेरे में है दिनदहाड़े खनन माफिया बालू गिरवा रहे हैं और रात के अंधेरे में ट्रैक्टर डंपर आदि से बालू बाहत निकालते हैं खनन माफिया और बालू अधिकारियों के इस गठजोड़ पर आला अधिकारियों ने जांच कराई तो खनन अधिकारी का बदनुमा चेहरा उजागर होगा
एसीपी न्यूज़ चैनल कौशाम्बी से ब्यूरो चीफ पवन मिश्रा की रिपोर्ट

About आंखें क्राइम पर

Avatar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*