रामानुजगंज आरटीओ जांच चौकी खूलने के बाद एवं खनिज जांच नाका रहने के बावजूद गिट्टी वाहने बिना फिटपास के ओवरलोड

रामानुजगंज आरटीओ जांच चौकी खूलने के बाद एवं खनिज जांच नाका रहने के बावजूद गिट्टी वाहने बिना फिटपास के ओवरलोड

नवनीत पांडेय की रिपोर्टिंग
बलरामपुर – रामानुजगंज

रामानुजगंज आरटीओ जांच चौकी खुलने के बाद एवं खनिज जांच नाका रहने के बावजूद भी किस प्रकार से गिट्टी वाहने बिना फिटपास के ओवरलोड चल रही है इसका खुलासा तब हुआ जब बीती रात कलेक्टर श्याम धावडे के निर्देश पर एसडीएम एवं प्रशिक्षु डिप्टी कलेक्टर व रामानुजगंज के प्रभारी तहसीलदार के नेतृत्व में राजस्व अमले के द्वारा पूरी रात जांच की गई। जिसमें गिट्टी लोड किए सात हाईवा वाहने एवं 2 ट्रेलर बिना फीट पास के ओवरलोड चलते पकड़े गए जिस राजस्व अमले के द्वारा पकड़कर रामानुजगंज थाने के सुपुर्द किया गया है जिसके विरूद्ध वैधानिक कार्यवाही की जा रही है।

                                  गौरतलब है कि लंबे समय से बिना फीट पास के हाईवा वाहन गिट्टी लेकर लगातार झारखंड जा रहे थे। जिसकी लगातार शिकायतों के बीच एसडीएम अभिषेक गुप्ता डिप्टी कलेक्टर एवं प्रभारी तहसीलदार विवेक चंद्रा के नेतृत्व में राजस्व अमले के द्वारा बीती रात 11 बजे से जब जांच की गई तो कई चौकानेवाले खुलासे हुए करीब-करीब सभी वाहन जो गिट्टी लोड किए हुए थे वह बिना फीट पास के चल रहे थे वही सभी ओवरलोड थे। राजस्व विभाग के द्वारा बिना पीट पास के ओवरलोड चल रहे 7 हाईवा वाहन एवं 2 ट्रेलर को पकड़ा जिसे रामानुजगंज थाने के सुपुर्द किया गया जिनके विरुद्ध वैधानिक कार्यवाही की जा रही है। इस संबंध में एसडीएम अभिषेक गुप्ता ने कहा कि 7 हाईवा वाहन एवं 2 ट्रेलर वाहन के द्वारा बिना पीट पास के गिट्टी का परिवहन किया जा रहा था। जिसके विरुद्ध वैधानिक कार्यवाही की जा रही है श्री गुप्ता ने कहा कि इसी प्रकार आगे भी कार्यवाही जारी रहेगा।

आरटीओ की कार्यशैली पर उठे सवाल- छत्तीसगढ़ शासन के द्वारा पुनः आरटीओ  प्रारंभ किया गया वही आरटीओ नाका के कार्यशैली पर भी सवाल उठने लगे हैं जो कार्य आरटीओ को करना चाहिए था वह कार्य राजस्व विभाग कर रहा है ऐसे में विभाग के कार्यशैली पर सवाल उठना लाजमी है। जिसके सामने से प्रतिदिन ओवरलोड गाड़ी जा रही है एवं आरटीओ मूकदर्शक बना हुआ है।

खनिज जांच नाका के रहते क्यों चल रही है बिना फीट पास की गाड़ियां ?- खनिज विभाग के द्वारा खनिज जांच नाका कन्हर पुल के समीप संचालित है परंतु खनिज जांच नाका के रहने के बावजूद भी लगातार बिना फीट पास के गाड़ियां जा रही है ऐसे में खनिज जांच नाका के अस्तित्व पर सवालिया निशान खड़े हो रहे हैं।

प्रतिदिन होती है लाखों रुपए की राजस्व की चोरी- गिट्टी लोड वाहनों के द्वारा प्रतिदिन बिना फीट पास के चल रही है एवं झारखंड जा रही है जिनके द्वारा प्रतिदिन लाखों रुपए की राजस्व की चोरी की जा रही है। यदि प्रशासन इसी प्रकार से मुस्तैद रहेगा तो राजस्व की चोरी रुकेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*