Breaking News
Home / More / नपा प्रशासन ने पॉलिथीन, कूड़ा तथा वाणिज्यक संस्थानों की चेकिंग का अभियान चलाया।

नपा प्रशासन ने पॉलिथीन, कूड़ा तथा वाणिज्यक संस्थानों की चेकिंग का अभियान चलाया।

नपा प्रशासन ने पॉलिथीन, कूड़ा तथा वाणिज्यक संस्थानों की चेकिंग का अभियान चलाया।
बराड़ा, 5 नवंबर (जयबीर राणा थंबड़)
कस्बा के नपा क्षेत्र को स्वच्छ पर्यावरण एवं परिवेश उपलब्ध करवाने के उद्देश्य से नपा प्रशासन ने पॉलिथीन, कूड़ा तथा वाणिज्यिक संस्थानों की विशेष चेकिंग का एक व्यापक अभियान चलाया है। नपा सचिव जतिंद्र शर्मा के अनुसार आम जन को मुनादी, प्रचार प्रसार के अन्य माध्यमों द्वारा जागरूक किया गया है तथा अब विशेष चेकिंग अभियान चलाकर पॉलीथिन के प्रयोग, कूड़ा तथा वाणिज्यिक संस्थानों के पंजीकरण संबंधी दस्तावेजों की गहन जांच की जाएगी। 1 नवंबर 2020 से सिंगल यूज प्लास्टिक पूर्णत: प्रबंधित हो चुका है। अब पॉलिथीन में सामान देने वाले तथा लेने वाले दोनों पर दंडात्मक कार्यवाही की जाएगी। भारत सरकार ग्रीन ट्रिब्यूनल तथा राज्य सरकार द्वारा समय-समय पर पर्यावरण संरक्षण संबंधी जारी सभी अधिनियम लागू हो चुके हैं। अतः अब पॉलिथीन इस्तेमाल व पंजीकरण के दोषियों पर पंजीकरण जुर्माने का चाबुक चलाया जाएगा।

विभिन्न नियमों के उल्लंघन पर जुर्माने की सीमा तय की गई है:-

नपा क्षेत्र में कोई भी दुकानदार अथवा रेहडी संचालक पॉलीथिन का प्रयोग, प्लास्टिक सामान को इधर-उधर फेंकने तथा सड़क पर डालने का दोषी पाए जाने पर जुर्माना वसूल करने के अतिरिक्त कानून सम्मत कार्रवाई की जाएगी। अब 50 माइक्रोन से कम भार का पॉलिथीन पूर्ण रूप से प्रतिबंधित किया जा चुका है। अतः दोषी पाए जाने पर जुर्माने का प्रावधान निम्न प्रकार से होगा।

100 ग्राम तक -500 रूपए
101 ग्राम से 500 ग्राम तक -1500 रूपए
501 ग्राम से 1 किलो ग्राम तक -3000 रूपए
1 किलोग्राम से 5 किलोग्राम तक -10000 रूपए
5 किलोग्राम से 10 किलोग्राम तक -20,000 रूपए
10 किलोग्राम से अधिक 25,000 रूपए।

इसके अतिरिक्त नपा क्षेत्र खुले में शौच मुक्त घोषित हो चुका है। अतः पालिका क्षेत्र में खुले में शौच, पेशाब करना निषेध है। प्रथम बार दोषी पाए जाने पर 50 रूपए तथा दूसरी बार 200 रूपए प्रतिदिन के आधार पर जुर्माना देना होगा। होटल सभागार तथा वाणिज्यिक संस्थानों की स्वीकृति प्राप्त न करने पर संस्थान को सील करके कानून सम्मत कार्रवाई की जाएगी। डेरी संचालकों द्वारा कूड़ा अथवा गंदगी फैलाने पर 500 रूपए प्रतिदिन के हिसाब से जुर्माना लगाने का प्रावधान किया गया है। समस्त नपा क्षेत्र में सार्वजनिक स्थानों, शौचालय, पार्क में कूड़ा फैलाने, फूल तोड़ने, सिगरेट पीने, नशा करने पर प्रतिबंध है। अतः उल्लंघन करने पर 100 रूपए जुर्माना भरना होगा। कूड़ा जलाने पर 200 रूपए की राशि का जुर्माना लगाया जाएगा। सभी निजी टैंकरों को पंजीकरण करवाना होगा। टैंकरों में जीपीएस लगाना भी अनिवार्य बनाया गया है। किसी भी नियम के दोषी पर प्रथम बार 5000 रूपए जुर्माना, दूसरी बार 20% की बढ़ोतरी के साथ छह माह की सजा का भी प्रावधान किया गया है। प्रशासन ने सभी लोगों को जिम्मेदार नागरिक की भूमिका निभाने के साथ स्वच्छता एवं अन्य नियमों की कड़ाई से पालना करने की अपील की है। स्वास्थ्य लाभ के साथ जुर्माने से बचने का भी आह्वान किया गया है।

About आंखें क्राइम पर

Avatar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*