Breaking News
Home / More / जल जंगल जमीन बचाने रेणी पहुंचे उत्तराखंड कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय एवं पूर्व राज्य मंत्री 

जल जंगल जमीन बचाने रेणी पहुंचे उत्तराखंड कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय एवं पूर्व राज्य मंत्री 

चमोली उत्तराखंड

जल जंगल जमीन बचाने रेणी पहुंचे उत्तराखंड कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय एवं पूर्व राज्य मंत्री
मंत्री प्रसाद नैथानी

आज जल जंगल जमीन आंदोलन के तहत उत्तराखंड सरकार के पूर्व राज्य मंत्री मंत्री प्रसाद नैथानी एवं पूर्व प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय चिपको आंदोलन की जननी गौरा देवी कि जन्मभूमि एवं कर्म भूमि रेणी पहुंचे
रेणी पहुंचकर पूर्व प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय एवं पूर्व राज्य मंत्री मंत्री प्रसाद नैथानी ने ग्राम वासियों से भेंट की

एवं गौरा देवी की प्रतिमा पर पत्र पुष्प अर्पित कर गौरा देवी को याद किया

एवं उनके द्वारा चलाए गए जल जंगल जमीन को बचाने के लिए चिपको आंदोलन पर भी विस्तृत चर्चा की

पूर्व प्रदेश अध्यक्ष कांग्रेस किशोर उपाध्याय द्वारा प्रदेशभर के पहाड़ी इलाकों में जल जंगल और जमीन को लेकर विशालकाय आंदोलन चलाया जा रहा है

जिसकी शुरुआत आज रेणी गांव से की गई

किशोर उपाध्याय ने ग्राम वासियों से आंदोलन में उनका सहयोग मिलने की अपील भी की है

साथ ही केंद्र सरकार की सेवाओं में ग्रामीणों को आरक्षण दिए जाने की बात भी कही है

किशोर उपाध्याय का कहना है कि हर ग्रामीण परिवार के एक सदस्य को पक्की नौकरी दी जानी चाहिए

साथ ही प्रतिमाह एक गैस सिलेंडर बिजली-पानी निशुल्क दिया जाना चाहिए

साथ ही किशोर उपाध्याय का कहना है कि जड़ी बूटियों पर स्थानीय समुदाय का पूरा अधिकार होना चाहिए

शिक्षा व स्वास्थ्य सेवाएं निशुल्क होनी चाहिये

एक यूनिट आवास बनाने हेतु लकड़ी बजरी व पत्थर निशुल्क दिए जाने चाहिए

किशोर उपाध्याय का कहना है कि यदि जंगली जानवरों द्वारा जनहानि की जाती है

तो कम से कम पीड़ित परिवार को 25000 रुपए की क्षतिपूर्ति की जानी चाहिए

साथ ही एक सदस्य को पक्की नौकरी देने की मांग भी की है

जंगली जानवरों द्वारा यदि फसल को नुकसान पहुंचाया जाए तो प्रति नाली भूमि पर ₹5000 क्षतिपूर्ति भी दी जानी चाहिए

साथ ही किशोर उपाध्याय ने राज्य में अभिलंब चकबंदी की मांग भी की है
बयान

किशोर उपाध्याय पूर्व प्रदेश अध्यक्ष कांग्रेस।
रिपोर्ट केशर सिंह नेगी

About आंखें क्राइम पर

Avatar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*