Breaking News
Home / More / लोकल फॉर दीवाली’ अभियान के तहत स्वदेशी हैंडलूम और हैंडीक्राफ्ट को बढ़ावा दें : केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी

लोकल फॉर दीवाली’ अभियान के तहत स्वदेशी हैंडलूम और हैंडीक्राफ्ट को बढ़ावा दें : केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी

लोकल फॉर दीवाली’ अभियान के तहत स्वदेशी हैंडलूम और हैंडीक्राफ्ट को बढ़ावा दें : केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी

केंद्रीय कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने कहा कि हैंडलूम और हस्तशिल्प की समृद्धि और विविधता के बारे में दुनिया जितना जानेगी, उतना ही हमारे स्थानीय कारीगरों और बुनकरों को लाभ होगा

वागाराम बोस संवाददाता

नई दिल्ली/जयपुर

केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने गुरुवार को आमजन से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से त्योहारों के मौसम में देशवासियों से लोकल प्रोडक्ट को बढ़ावा देने के लिए शुरू किए गए ‘लोकल फॉर दिवाली’ को सफल बनाने का आह्वान किया। केंद्रीय मंत्री चौधरी ने उम्मीद जताई कि इससे अर्थव्यवस्था में नई चेतना आ जाएगी। कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने कहा कि आजकल ‘लोकल के लिए वोकल’ के साथ ही, लोकल फॉर दीवाली के मंत्र की गूंज चारो तरफ अब सुनाई देने लगी है।

केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी ने आगे कहा कि हर एक व्यक्ति जब गर्व के साथ लोकल सामान खरीदेगा, लोकल की चर्चा करेगा, लोकल प्रोडक्ट पर गौरव करेगा, नए-नए लोगों तक ये बात पहुंचाएगा कि हमारे लोकल प्रोडक्ट कितने अच्छे हैं, कितने शानदार हैं, किस तरह हमारी पहचान है, तो ये बातें दूर-दूर तक जाएंगी। इससे स्थानीय पहचान तो मजबूत होगी ही, जो लोग इन सामानों को बनाते हैं, उनकी दिवाली भी और रोशन हो जाएगी। कैलाश चौधरी ने कहा कि मैं आमजन से बार-बार आग्रह करता हूं कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अभियान से जुड़कर ‘लोकल के लिए वोकल’ बनें। हर कोई लोकल(स्थानीय) के साथ दिवाली मनाए, आप देखिए पूरी अर्थव्यवस्था में नई चेतना आ जाएगी।

केंद्रीय कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने कहा कि लोकल के लिए वोकल बनने का अर्थ सिर्फ दीये खरीदना नहीं है, हर चीज है। उन्होंने कहा कि ऐसी चीज जो अपने देश में बनना संभव नहीं है, बाहर से लेना ही पड़ेगा तो वह अलग बात है। कैलाश चौधरी ने कहा कि मैं इतना ही चाह रहा हूं कि जो स्थानीय लोग जो पसीना बहा रहे हैं, स्थानीय युवा अपनी बुद्धि कौशल और इच्छाशक्ति से कुछ न कुछ नया करने की कोशिश कर रहे हैं, उनको प्रोत्साहित करना हम सबका दायित्व बनता है। हम उनकी चीजें लेते हैं तो उनका हौसला बुलंद हो जाता है। अपने आप विश्वास से भरा एक बड़ा वर्ग तैयार हो जाएगा, जो देश को नई ऊंचाइयों पर ले जाने के लिए एक नई शक्ति बन जाएगा।

स्वदेशी हैंडलूम और हैंडीक्राफ्ट का करें ज्यादा उपयोग :
केंद्रीय कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘वोकल फोर लोकल’ और अभी ‘लोकल फॉर दीवाली’ अभियान के तहत लोगों से ज्यादा से ज्यादा स्वदेशी हैंडलूम और हैंडीक्रफ्ट का उपयोग करने की अपील की है, ताकि स्थानीय कारिगरों और बुनकरों का लाभ हो सके। कृषि राज्यमंत्री ने कहा कि स्वदेशी हैंडलूम और हमारे हस्तशिल्प में सैकड़ों वर्षों का गौरवशाली इतिहास समाहित है। यह हम सभी के लिए एक प्रयास होना चाहिए कि हम स्वदेशी हैंडलूम और हस्तशिल्प का अधिक से अधिक उपयोग करें और इसके बारे में ज्यादा से ज्यादा लोगों से प्रचार भी करें। कैलाश चौधरी ने कहा कि भारतीय हैंडलूम और हस्तशिल्प की समृद्धि और विविधता के बारे में दुनिया जितना जानेगी, उतना ही हमारे स्थानीय कारीगरों और बुनकरों को लाभ होगा। चौधरी ने आगे कहा कि समाज में अगर हमारे घर के पास के व्यक्ति का व्यवसाय हमारे त्योहारों के कारण बढ़ता है और इस प्रकार उसके त्योहार में विलय हो जाता है, तो त्योहार का आनंद कई गुना बढ़ जाता है।

About आंखें क्राइम पर

Avatar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*