Breaking News
Home / More / कार्तिक पूर्णिमा 30  नबम्बर 2020 को बाँद्राभान  में समर्थ सद्गुरु श्री भैयाजी सरकार के सानिध्य

कार्तिक पूर्णिमा 30  नबम्बर 2020 को बाँद्राभान  में समर्थ सद्गुरु श्री भैयाजी सरकार के सानिध्य

होशंगाबाद – आज कार्तिक पूर्णिमा 30  नबम्बर 2020 को बाँद्राभान  में समर्थ सद्गुरु श्री भैयाजी सरकार के सानिध्य में नर्मदा मिशन तथा उससे जुड़े संगठनों ने जल सत्याग्रह से नर्मदा तथा गौ संरक्षण का 46 दिनों से चल रहे सत्याग्रह का समर्थन करते हुए  होशंगाबाद में भी सत्याग्रह आरंभ हुआ, जिसमें नर्मदा पुत्रों ने माँ नर्मदा में प्रवेश कर जल सत्याग्रह किया तथा समस्त मातृ शक्तियों व कन्याओं ने क्रमिक अनशन कीर्तन भजन के साथ किया। ज्ञातव्य है कि समर्थ श्री भैयाजी सरकार पिछले 46 दिनों से अन्न आहार का त्याग कर नर्मदा और गौ सत्याग्रह कर रहे हैं। इस सत्याग्रह को विभिन्न जिलों से समर्थन प्राप्त हो रहा है बढ़ चढ़ कर गौ सेवक  व नर्मदा भक्त इस सत्याग्रह से जुड़ते जा रहे हैं और क्रमिक अनशन भी कर रहे हैं,  इसी तारतम्य में आज सत्याग्रह का आरंभ होशंगाबाद जिले में किया गया । बाँद्राभान संगम पर माँ नर्मदा की पूजन आरती कर सद्गुरु के सानिध्य  तथा मार्गदर्शन में  नर्मदा मिशन होशंगाबाद तथा अन्य संगठनों द्वारा जल सत्याग्रह किया गया जो होशंगाबाद सत्याग्रह का आरंभ है। इस सत्याग्रह में समर्थ सद्गुरु परिवार होशंगाबाद, इंदौर, हरदा, जबलपुर ग्वालियर खिरकिया खंडवा सलकनपुर मरदानपुर भोपाल बैतूल इत्यादि के सदस्य और सभी संगठनों के पदाधिकारी उपस्थित थे। 
यह सत्याग्रह सद्गुरु द्वारा  माँ नर्मदा और गौ संरक्षण के लिए की गई सभी  मांगे पूरी होने तक प्रदेश स्तर पर जारी रहेगा । इस अवसर पर सद्गुरु ने अपने सन्देश में कहा कि गुप्त हो रही मां नर्मदा विलुप्त हो रहे जीवन क्षेत्र को बचाना ही हमारा प्रथम ध्येय है मां नर्मदा जो अक्षया है आज धरा से गुप्त होती नज़र आ रही है माँ नर्मदा के गुप्त होने का सबसे बड़ा कारण नर्मदा के तटीय हरित क्षेत्र जल संग्रहण क्षेत्र का अंधाधुंध दोहन शोषण होना।अमरकंटक से सम्पूर्ण नर्मदा पथ पर लगातार मां का हरित क्षेत्र जल संग्रहण क्षेत्र जीवनदायनी का जीवन क्ष्रेत्र में हो रहे अंधाधुंध अवैध निर्माण अतिक्रमण खुदाई वन अभायरण की कटाई से नर्मदा जल संग्रहण हरित क्षेत्र खत्म होता जा रहा है जिसके कारण अनेक स्थानों पर जल स्तर बड़ी तीव्रता से कम हो रहा है। नर्मदा गुप्त होने के संकेत स्पष्ट हमे दिखाई दे रहे है यदि आज माँ नर्मदा का  संरक्षण हम नहीं कर पाए तो  करोड़ो जनों पर गहरा संकट छा जाएगा। आइए इस महासंकल्प सत्याग्रह के भागीदार बने साथ आए मॉं नर्मदा बचाएँ।
प्रदीप गुप्ता की रिपोर्ट

About आंखें क्राइम पर

Avatar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*