Breaking News
Home / More / खाद की कालाबाजारी के खिलाफ जिला प्रशासन की कड़ी कार्रवाई

खाद की कालाबाजारी के खिलाफ जिला प्रशासन की कड़ी कार्रवाई

खाद की कालाबाजारी के खिलाफ जिला प्रशासन की कड़ी कार्रवाई

आरोपी पर एफआईआर दर्ज

होशंगाबाद/04, दिसम्बर, 2020/ जिले में खाद की कृत्रिम कमी तैयार ना हो, किसानों को खाद का सुचारु रुप से वितरण किया जाए एवं खाद की कालाबाजारी करने वालों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई सुनिश्चित कराएं। यह निर्देश कलेक्टर होशंगाबाद श्री धनंजय सिंह ने सभी एसडीएम को दिए है।

कलेक्टर श्री सिंह के द्वारा जिले में खाद की पर्याप्त उपलब्धता बनी रहें व किसानों को खाद सुचारू रूप से मिले इसकी लगातार मॉनिटरिंग की जा रही है।

कलेक्टर के निर्देशानुसार सभी एसडीएम द्वारा अपने-अपने क्षेत्रों में लगातार खाद वितरण व्यवस्था पर निगरानी रखी जा रही है एवं गड़बड़ी करने वालों के विरुद्ध कठोर कार्रवाई सुनिश्चित की जा रही है।

इसी क्रम में एसडीएम इटारसी श्री मदन रघुवंशी द्वारा मार्कफेड गोदाम खेड़ा इटारसी की सघन जांच कर गोदाम प्रभारी द्वारा नियम विरुद्ध यूरिया का गलत तरीके से वितरण करके, कालाबाजारी किए जाने पर एफआईआर दर्ज की कार्रवाई की गई है। एसडीएम इटारसी ने बताया कि गोदाम प्रभारी द्वारा गंभीर अनियमितता करते हुए 22 किसानों को गलत तरीके से यूरिया का विक्रय किया गया है। संयुक्त जांच दल द्वारा मौका जांच के दौरान यह पाया गया कि गोदाम प्रभारी वरिष्ठ सहायक रामसिया गुप्ता द्वारा मार्कफेड गोदाम में शासन के निर्देशों के विपरीत भूमिहीन व्यक्तियों को यूरिया का वितरण किया गया है। विक्रय रजिस्टर एवं बिल बुक में भी ना ही नियमों का पालन किया गया है और ना ही कृषकों के हस्ताक्षर लिए गए है।गोदाम प्रभारी द्वारा जिले के बाहर के व्यक्तियों को भी उर्वरकों का विक्रय किया गया है । पीओएस मशीन से एक ही मात्रा 100 बोरी के बिल कई बार काटे गए है, जो गंभीर अनियमितता प्रदर्शित करता हैं। गोदाम प्रभारी द्वारा किए गए उक्त कृत्य पर कार्यवाही करते हुए शुक्रवार को थाना इटारसी में वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी आर एल जैन द्वारा एफआईआर दर्ज करवाई गई है।

About आंखें क्राइम पर

Avatar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*