Breaking News
Home / More / वृक्ष धर सम्मेलन मे पेड़ पर्यावरण मृदा और स्वास्थ्य पर हुआ चिंतन

वृक्ष धर सम्मेलन मे पेड़ पर्यावरण मृदा और स्वास्थ्य पर हुआ चिंतन

वृक्ष धर सम्मेलन मे पेड़ पर्यावरण मृदा और स्वास्थ्य पर हुआ चिंतन
प्रदेश मे चार करोड पौधे रोपेगी ग्रो ट्रीस
नहर,गोहे तथा सडक के किनारो से हटेगा अतिक्रमण लगेंगे पौधे
मसनगांव- सुभाष मंच द्वारा आयोजित वृक्षधर सम्मेलन मे पेड़ पर्यावरण मृदा एवं स्वास्थ्य पर चिंतन किया गया झुमर खाली के पास शाहपुरा के जंगल मे हुए इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथियों के रूप में विक्रांत तिवारी ग्रो ट्रीस के सीईओ ने बताया कि प्रदेश में चार करोड़ पौधे रोपने का कंपनी के द्वारा लक्ष्य रखा गया है जिसके लिए उन्होंने प्रदेश सरकार से जमीन की मांग की है जिस पर विधायक एवं कृषि मंत्री कमल पटेल ने कहा कि नहर के किनारे वाली जमीन से गोहो तथा सड़क के आजू-बाजू अतिक्रमण को हटाकर तार फेंसिंग के बाद पौधे लगाने के लिए जमीन को तैयार किया जाएगा।जिसमे लगे पौधो को ग्रो ट्रीस कंपनी द्वारा जिसकी 2 साल की देखभाल की जिम्मेदारी कंपनी की होगी इसके पश्चात किसानों को इसकी देखभाल करनी होगी 15 साल तक पेड़ों को पालना होगा इसके पश्चात आवश्यकता पड़ने पर किसान इसकी कटाई करा सकेंगे मंत्री पटेल के द्वारा मृदा (मिटटी) को स्वस्थ रखने के लिए पेड़ पौधे लगाकर पर्यावरण को स्वस्थ बनाना आवश्यक बताया उन्होंने कहा कि अपने को तथा अपने लोगो को स्वस्थ रखने के लिए मिट्टी को स्वस्थ रखना जरूरी है इसके लिए जमीन पर वृक्ष लगाना आवश्यक है वही वन मंत्री विजय शाह ने जानकारी देते हुए कहा कि प्रदेश में 35 हजार हेक्टर जमीन पड़त की है जिस पर पौधे रोपकर उसमे सुधार किया जायेगा ग्लोबल बर्मिंग से निपटने के लिए के लिए प्रदेश सरकार को अन्य दुसरे प्रदेशो से 1000 करोड़ की राशि प्राप्त हुई है जिसका उपयोग पर्यावरण को सुधारने में किया जाएगा आयोजन में क्षेत्र के किसान ने भाग लेकर लोक वानिकि प्रबंध योजना के विषय में जानकारी हासिल की। चर्चा के समन्वयक गौरीशंकर मुकाती ने जानकारी देते हुए बताया कि किसानों को अपने खेतों की मेड़ों पर पौधे लगाने के पश्चात अनेक समस्याएं आती है जिन्हें दूर करने का प्रयास सरकार द्वारा किया जाना चाहिए। इस अवसर पर टिमरनी विधायक संजय शाह मांधाता विधायक नारायण पटेल अजय महापात्रा देवोपम मुखर्जी एवं संदीप सानन ने भी अनेक जानकारी से अवगत कराया।वही डॉक्टर नीलेश पटेल ने उपस्थित होकर जमीन को देने वाले पानी के संबंध में जानकारी से किसानों को अवगत कराया।
झूमरखाली (शाहपुरा) से अनिल दीपावरे की रिपोर्ट

About आंखें क्राइम पर

Avatar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*