Breaking News
Home / More / प्रमुख सचिव, दुग्ध विकास, मत्स्य समन्वय तथा पशुधन

प्रमुख सचिव, दुग्ध विकास, मत्स्य समन्वय तथा पशुधन

*कौशाम्बी* प्रमुख सचिव, दुग्ध विकास, मत्स्य समन्वय तथा पशुधन एवं जनपद के लिए नामित नोडल अधिकारी भुवनेश कुमार गुरूवार को विकास खण्ड नेवादा के रसूलपुर टप्पा एवं चक पिनहा में बने अस्थायी गौआश्रय स्थल का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान अस्थायी गौआश्रय स्थल चक पिनहा में अव्यवस्था पाये जाने पर प्रमुख सचिव ने कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए सेक्रेटरी श्री जितेन्द्र सिंह, पशु डॉक्टर श्री राजेश सिंह को निलम्बित करने एवं ग्राम प्रधान के विरूद्ध एफआईआर दर्ज कराने तथा गौआश्रय स्थल की व्यवस्था हेतु देखरेख में लगाये गये अधिकारियों एवं कर्मचारियों को स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने का निर्देश दिया है। गौआश्रय स्थल में गोवंशों की टैगिंग की सही मेल न खाने एवं रजिस्टर में मेनटेन न होने पर सचिव ने नाराजगी व्यक्त करते हुए तत्काल कार्रवाइयों को पूर्ण कराये जाने का निर्देश दिया है। आश्रय स्थल में भूषा एवं चारे की पर्याप्त मात्रा में उपलब्धता न पाये जाने पर भी प्रमुख सचिव ने नाराजगी व्यक्त करते हुए भूषा एवं चारे की पर्याप्त उपलब्धता बनाये रखने का निर्देश दिया है। निरीक्षण में ग्रामीणों के द्वारा शिकायत की गयी कि अस्थायी गौआश्रय स्थल के मरे हुए गोवंशों को पास में ही निर्मित तालाब में फेक दिया जाता है, और उसी तालाब से गोवंशों को पानी पिलाया जाता है, ग्रामीणों की शिकायत पर प्रमुख सचिव ने मौके का निरीक्षण किया जिसमें ग्रामीणों की शिकायत सही पायी गयी। नोडल अधिकारी ने सख्त हिदायत देते हुए निर्देशित किया है कि गौआश्रय स्थल की व्यवस्था हेतु देखरेख में तैनात ऐसे लापरवाह अधिकारियों एवं कर्मचारियों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाये इसमें किसी भी प्रकार की हीला हवाली नहीं चलेगी। नोडल अधिकारी ने एक सप्ताह के अन्दर आश्रय स्थल की सभी व्यवस्थायें पूर्ण कराये जाने का निर्देश संबंधित अधिकारी को दिया है। आश्रय स्थल में सोलर लाइट एवं गोवंशों को ठण्ड से बचाव हेतु बोरे के परदे लगवाये जाने का निर्देश दिया है। इस अवसर जिलाधिकारी श्री अमित कुमार सिंह, मुख्य विकास अधिकारी शशिकांत त्रिपाठी, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डॉ0 वीपी पाठक एवं प्रभागीय वनाधिकारी सहित अन्य अधिकारी एवं कर्मचारीगण उपस्थित रहे।

कौशाम्बी से ब्यूरो चीफ पवन मिश्रा की रिपोर्ट

About आंखें क्राइम पर

Avatar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*