Breaking News
Home / More / कलेक्टर ने किया कृषि उपज मंडियो का निरीक्षण धान उपार्जन में किसी भी तरह की लापरवाही न करें-कलेक्टर

कलेक्टर ने किया कृषि उपज मंडियो का निरीक्षण धान उपार्जन में किसी भी तरह की लापरवाही न करें-कलेक्टर

कलेक्टर ने किया कृषि उपज मंडियो का निरीक्षण
धान उपार्जन में किसी भी तरह की लापरवाही न करें-कलेक्टर

पन्ना, कलेक्टर श्री संजय कुमार मिश्र द्वारा समय समय पर ग्रामीण अंचलों का भ्रमण कर ग्रामीण अचंलों में चल रही शासकीय गतिविधियों की जानकारी लेने के साथ ग्रामीणों से रूबरू होकर उनकी समस्याओं की जानकारी लेकर निराकरण करने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को देते हैं। कुछ समस्याएं मौके पर ही निराकृत हो जाती है। उन्होंने शाहनगर विकासखण्ड के ग्रामीण अंचल सुडौर के भ्रमण पर जाते हुए मार्ग में पडने वाले धान खरीदी केन्द्र सत्यगुरू कबीर विद्या मंदिर केन्द्र द्वारी का निरीक्षण किया। इस केन्द्र पर तारा-झरकुआ सहकारी समिति द्वारा खरीदी की जा रही है। केन्द्र पर उन्होंने धान की नमी, धान का वजन आदि देखने के साथ धान से साफ किए गए कचरे का भी अवलोकन किया। खरीदी केन्द्र पर उपार्जित धान को तत्काल परिवहन कर भण्डारगृह पहुंचाने के निर्देश दिए। उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि जो भी धान उपार्जित की गयी है उस धान को नमी एवं वर्षा से किसी प्रकार की क्षति न हो इसकी व्यवस्था सुनिश्चित करें।
इसी प्रकार उन्होंने उपज मंडी अमानगंज, हिनौता के धान उपार्जन केन्द्र का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान मौके पर उपस्थित किसानों से चर्चा कर उनकी कठिनाईयों की जानकारी ली। किसानों को समझाईश देते हुए कहा कि धान को आप अपने घरों से साफ करके लाए जिससे सफाई न करनी पडे। किसानों द्वारा बताया गया कि उनके घरों पर जगह एवं उपकरण का अभाव होने के कारण सफाई नही कर पाते हैं। उन्होंने किसानों से खरीदी केन्द्र पर पैसे लिए जाने आदि की जानकारी ली गयी। किसानों द्वारा बताया गया कि केन्द्र के कर्मचारियों द्वारा किसी प्रकार के पैसे की मांग नही की जाती है। कृषि उपज मंडी पवई का निरीक्षण भी किया गया। इस केन्द्र पर नर्सिंग स्व सहायता समूह द्वारा धान की खरीदी की जा रही है। किसानों ने बताया कि किसी तरह की धान उपार्जन में परेशानी नही हो रही है। केन्द्र पर धान लाने पर समय पर धान की खरीदी कर ली जाती है। उन्होंने केन्द्र पर कार्य कर रहे कर्मचारियों को निर्देश दिए कि किसानों के लिए आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध कराएं। जिससे इन्हें किसी प्रकार की कठिनाई का सामना न करना पडे। किसानों को धान उपार्जन के बाद भुगतान की कार्यवाही 3 से 5 दिन के अन्दर की जाए।

पन्ना से जिला ब्यूरो चीफ वेद प्रकाश तिवारी की रिपोर्ट

About आंखें क्राइम पर

Avatar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*