Breaking News
Home / More / आदिवासी विकासखण्ड केसला में चिन्हित शालाएं एक परिसर-एक शाला के रूप में संचालित होगी

आदिवासी विकासखण्ड केसला में चिन्हित शालाएं एक परिसर-एक शाला के रूप में संचालित होगी

आदिवासी विकासखण्ड केसला में चिन्हित शालाएं एक परिसर-एक शाला के रूप में संचालित होगी

होशंगाबाद/30, दिसम्बर, 2020/ सहायक आयुक्त आदिवासी विकास श्रीमती चंद्रकांता सिंह ने बताया कि आदिम जाति कल्याण विभाग म प्र शासन ने 20 जिलों के 89 आदिवासी विकासखण्डों में एक ही परिसर में विभिन्न स्तर की संचालित शालाओं को राज्य शासन के एक परिसर-एक शाला के अनुरूप संचालित करने का निर्णय लिया है। जिसके अंतर्गत होशंगाबाद जिले में भी आदिवासी विकासखण्ड केसला में एक परिसर-एक शाला योजना का क्रियान्वयन किया जाना है। इस निर्णय से 150 मीटर के दायरे में संचालित 140 शालाओं के कुल 63 परिसर संचालित होंगे। उपरोक्त व्यवस्था से विभाग अंतर्गत पूर्व से संचालित शालाओं को बंद नहीं किया जा रहा है, बल्कि 150 मीटर में संचालित प्राथमिक, माध्यमिक, हाईस्कूल अथवा हायर सेकेण्डरी का संविलियन किया जा रहा है, जिससे इनमें उपलब्ध अधोसंरचना एवं मानव संसाधन का पूर्ण उपयोग सुव्यस्थित तरीके से हो सके। इसके साथ ही नि:शुल्क और अनिवार्य बाल शिक्षा अधिनियम (आरटीई) का क्रियान्वयन बेहतर तरीके से हो सकेगा। एकीकृत शालाओं का संचालन एक ही प्राचार्य/प्रधानाध्यापक के नियंत्रण में रहेगा।

इस संबंध में आदिम जाति कल्याण विभाग ने दिशा निर्देश में कहा है कि एक ही परिसर में संचालित एक से अधिक माध्यमिक शालाओं का एक ही माध्यमिक शाला के रूप में संचालन होगा। एक ही परिसर में संचालित एक से अधिक प्राथमिक अथवा माध्यमिक शालाओं का कक्षा एक से आठ तक एक ही शाला के रूप में संचालन होगा। एक ही परिसर में संचालित एक से अधिक प्राथमिक, माध्यमिक अथवा हाईस्कूल शालाओं का कक्षा एक से दस तक एक ही शाला के रूप में संचालन होगा। एक ही परिसर में संचालित एक से अधिक प्राथमिक, माध्यमिक, हाईस्कूल अथवा हायर सेकेण्डरी शालाओं का कक्षा 1 से 12वीं तक एक ही शाला के रूप में संचालन किया जाएगा।

एक परिसर-एक शाला के क्रियान्वयन के लिए जिला स्तरीय समिति गठित की गई है, जिसमें जिला कलेक्टर, सीईओ जिला पंचायत, सहायक आयुक्त आदिवासी विकास, प्राचार्य डाइट एवं जिला परियोजना समन्वयक शामिल है।

About आंखें क्राइम पर

Avatar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*