Breaking News
Home / More / गहलोत की मोदी सरकार को सलाह: कोरोना के नए स्ट्रेन को हल्के में न लें, जनवरी 2020 में अगर विदेशी फ्लाइट्स रोकी होती तो आज ये हालात न होते

गहलोत की मोदी सरकार को सलाह: कोरोना के नए स्ट्रेन को हल्के में न लें, जनवरी 2020 में अगर विदेशी फ्लाइट्स रोकी होती तो आज ये हालात न होते

गहलोत की मोदी सरकार को सलाह: कोरोना के नए स्ट्रेन को हल्के में न लें, जनवरी 2020 में अगर विदेशी फ्लाइट्स रोकी होती तो आज ये हालात न होते

कोरोना के नए स्ट्रेन को लेकर राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने केंद्र सरकार को चेताया है। गहलोत ने सोशल मीडिया पर पोस्ट करते हुए ब्रिटेन से पुन: फ्लाइट्स शुरू करने के फैसले पर केंद्र को पुनर्विचार करने की सलाह दी है। इसके साथ ही, उन्होंने चेताया कि इस नए स्ट्रेन को हल्के में लिया तो कही पहले जैसी स्थिति न हो जाए, जो लॉकडाउन में हुई थी।
गहलोत की ओर से सोशल मीडिया पर दो पोस्ट करते हुए लिखा कि ब्रिटेन में मिले नए कोरोना स्ट्रेन के मामले भारत में बढ़ते जा रहे हैं। 7 जनवरी को ब्रिटेन से पुन: फ्लाइट्स शुरू करने के फैसले पर भारत सरकार को पुनर्विचार करना चाहिए। अगर जनवरी 2020 में कोरोना की शुरुआत में विदेशों से आने वाली फ्लाइट्स को रोका गया होता तो आज ये स्थिति नहीं बनती। भारत सरकार को सुनिश्चित करना चाहिए कि ब्रिटेन से फ्लाइट चलने के बाद कोरोना के नए स्ट्रेन से पूर्व जैसी स्थिति न बन जाए।
आपको बता दें कि ब्रिटेन में मिले कोरोना के नए स्ट्रेन के बाद वहां की सरकार ने पूरे ब्रिटेन में लॉकडाउन लगा दिया है। भारत में भी ब्रिटेन से सफर करके आए कई यात्रियों में कोरोना के नए स्ट्रेन की पुष्टि हुई है। राजस्थान के श्रीगंगानगर में भी सोमवार को एक ही परिवार के 3 सदस्यों में नए स्ट्रेन की पुष्टि हुई है।
70% तेजी से फैलता है नया स्ट्रेन
ब्रिटेन में कोरोना वायरस के जिस नए स्वरूप का पता चला है, वह अब नीदरलैंड्स, डेनमार्क, ऑस्ट्रेलिया, इटली और दक्षिण अफ्रीका में भी मिला है। यह 70% ज्यादा तेजी से फैल रहा है।

About आंखें क्राइम पर

Avatar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*