Breaking News
Home / More / बाल भिक्षावृत्ति एक सामाजिक अभिशाप है आइये मिलकर इसे मिटाये-अपर पुलिस अधीक्षक पश्चिमी

बाल भिक्षावृत्ति एक सामाजिक अभिशाप है आइये मिलकर इसे मिटाये-अपर पुलिस अधीक्षक पश्चिमी

बाल भिक्षावृत्ति एक सामाजिक अभिशाप है आइये मिलकर इसे मिटाये-अपर पुलिस अधीक्षक पश्चिमी

प्रतापगढ़। मुख्यालय पुलिस महानिदेशक उत्तर प्रदेश के निर्देशन में चलाये जा रहे बाल भिक्षावृत्ति के खिलाफ चाइल्डलाइन व पुलिस विभाग के द्वारा जिले में आज संयुक्त अभियान चलाया गया जिसकी शुरूआत पुलिस लाइन परिसर में अपर पुलिस अधीक्षक (पश्चिमी) दिनेश कुमार द्विवेदी ने हरी झण्डी दिखाकर किया। इस अवसर पर अपर पुलिस अधीक्षक ने कहा कि बाल भिक्षावृत्ति एक सामाजिक अभिशाप है आइये मिलकर इसे मिटाये। इस अवसर पर जिला प्रोबेशन अधिकारी रन बहादुर वर्मा ने कहा कि बाल अधिकारों का हनन एक अक्षम अपराध है इसके लिये सबको आगे आना होगा। इस अवसर पर चाइल्डलाइन निदेशक नसीम अंसारी ने भी अपने विचार व्यक्त किये।
इस दौरान टीम द्वारा बस स्टेशन, कम्पनी गार्डेन, बेल्हा देवी मन्दिर, जामा मस्जिद, चौक, रेलवे स्टेशन, भंगवा चुंगी जाकर बाल भिक्षावृत्ति के खिलाफ सर्च आपरेशन चलाया और पर्चे बांट कर लोगों को जागरूक भी किया गया। अभियान के दौरान भिक्षावृत्ति करते हुये भैरोपुर बस अड्डे पर एक बच्चा भी पाया गया जिसे टीम द्वारा बाल न्यायालय में प्रस्तुत किया गया और बच्चे के माता पिता को बुलाकर हिदायत के साथ बच्चे को सौपा गया। अभियान के दौरान लोगों में उत्सुकता रही, स्थानीय लोगों और सम्बन्धित अधिकारियों ने अभियान के प्रति अपना समर्थन व्यक्त किया। अभियान में सीओ सदर तनु उपाध्याय सहित एन्टी ह्यूमन ट्राफ्किंग यूनिट प्रभारी राघवेन्द्र सिंह, विशेष किशोर पुलिस इकाई प्रभारी सुरेश चन्द्र मिश्रा, महिला सिपाही सविता यादव, चाइल्डलाइन केन्द्र समन्वयक कृष्णाकान्त राय, रीना, अभय, सौरभ, आजाद, बीना, हुसनारा, निशा, संतोष कुमार आदि लोगों की सक्रिय भूमिका रही।
———————-
जिला सूचना कार्यालय प्रतापगढ़ द्वारा प्रसारित
[18:29, 7/1/2021] बी के पाण्डेय उत्तर प्रदेश: प्रतापगढ़ उत्तर प्रदेश से बीके पांडे की रिपोर्ट

About आंखें क्राइम पर

Avatar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*