Breaking News
Home / More / स्वसहायता समूहों के प्रशिक्षण शिविर का हुआ समापन।

स्वसहायता समूहों के प्रशिक्षण शिविर का हुआ समापन।

स्वसहायता समूहों के प्रशिक्षण शिविर का हुआ समापन।

बैतूल/सारनी। कैलाश पाटिल

ग्राम फूलबेरिया में राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन से पंजीकृत चार समूहों कि 30 महिलाओं को राष्ट्रीय कृषि ग्रामीण विकास बैंक नाबार्ड जिला बैतूल के सहयोग से विभिन्न प्रकार के बैग सिलाई प्रशिक्षण 15 दिसंबर 2020 से 4 जनवरी 2021 जनवरी तक 21 दिन का प्रशिक्षण सम्पन्न किया गया। ग्राम भारती महिला मंडल द्वारा 3 दिन अपनी ओर से प्रशिक्षण दिया। इस प्रशिक्षण शिविर का समापन 7 जनवरी को खालिद अंसारी जिला विकास प्रबंधक नाबार्ड जिला बैतूल आतिथ्य में संपन्न हुआ। इस शिविर में महिलाओं द्वारा कैरी बैग 4 प्रकार के हैण्ड बैग, साइड बैग, सफर बैग आदि 14 प्रकार सिले बैगों की प्रर्दशनी लगाई गई। महिलाओं द्वारा अपने उद्बोधन में विभिन्न प्रकार के बैग सिलाई प्रशिक्षण से हमें अपने आप में अत्याधिक प्रसन्नता लग रही हैं। आज हम किसी भी
प्रकार के बैग सील सकते हैं। समुह की महिलाओं द्वारा सिलें बैगों की प्रदर्शिनी भी लगाई गयी। जिसका मुख्य अतिथि द्वारा निरिक्षण किया गया प्रदर्शिनी में बैगों को देखकर मुख्य अतिथी बहुत खुश हुये, फूलबेरिया की स्वसहायता को बैग आर्डर मिलने लगे हैं। कार्यक्रम में ग्राम फुलबेरिया के समुह की महिलाये एवं फुलबेरिया ग्राम की महिलाये उपस्थित हुई। समापन कार्यक्रम में खालिद अंसारी जिला विकास प्रबंधक संस्था प्रमुख, संस्थाध्यक्ष भारती अग्रवाल, नंदा सोनी, हितकला विजयवार, ज्योती बागडे, शबनम, कांता पवार, उज्जवला नागवंशी, आरजू अंसारी, पल्लवी पोटफोडे, अंकित बुनकर, प्रदीप विश्वास, लीलाधर दवन्डे, राजू रावत, अविनाश माकोडे, सुनील दरवाई, उपस्थित थे। वही फुलबेरिया के चार समुह द्वारा एक एक बैग स्मृति चिन्ह के रूप में दिये गये। चारो स्वसहायता समुह के मालस्की महिला आजिविका के 9 सदस्यों को 6750/- का चेक दिया गया। जिसके साथ ही मातृछाया एवं आशा की उम्मीद दोंनों से 8-8 सदस्य सीखे, जिन्हे छात्रवृति के रूप में
6-6 हजार रुपये का चैक दिया गया एवं गंगोत्री स्वसहायता समुह के 5 सदस्य 3750 रुपये का चैक दिया गया।

About आंखें क्राइम पर

Avatar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*