Breaking News
Home / More / पिंडर घाटी के विकासखंड देवाल के धारकुंवरपाटा गांव के जंगलों में एक ग्रामीण को भालू ने बुरी तरह से घायल कर दिया हैं।

पिंडर घाटी के विकासखंड देवाल के धारकुंवरपाटा गांव के जंगलों में एक ग्रामीण को भालू ने बुरी तरह से घायल कर दिया हैं।

चमोली उत्तराखंड
रिपोर्ट केशर सिंह नेगी
पिंडर घाटी के विकासखंड देवाल के धारकुंवरपाटा गांव के जंगलों में एक ग्रामीण को भालू ने बुरी तरह से घायल कर दिया हैं। लगभग 18 घंटों तक घायल अवस्था में अकेले जंगल में पड़े होने के बाद आज ग्रामीण उसे उपचार के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र थराली लाएं जहां पर उपचार के बाद सर पर चोट होने के कारण चिकित्सकों ने उसे हाई सेंटर रेफर कर दिया हैं।
मिली जानकारी के अनुसार ग्राम पंचायत खेता मानमती के अंतर्गत धारकुंवरपाटा ग्राम निवासी 60 वर्षीय नेत्र सिंह पुत्र बहादुर सिंह मंगलवार को गांव के पास के जंगल में मवेशियों के लिए चारापत्ती लेने गया था कि अचानक एक बच्चे वाले भालू ने उस पर जानलेवा हमला कर दिया। जिससे नेत्र सिंह बुरी तरह घायल हो गया। हालांकि इस दौरान उसने भालू पर दारंती से हमला किया जिससे भालू भी जख्मी हो कर बच्चों सहित घने जंगलों में भाग खड़ा हो गया। जिससे नेत्र सिंह की जान तो बच गई। किंतु जख्मी नेत्र सिंह मंगलवार की पूरी रात जंगल में ही पड़ा रहा। बुधवार प्रात: काल ग्रामीण उसे खोजने के लिए जंगल में गया तो वह बुरी तरह से जख्मी अवस्था में पड़ा मिला। लगभग 18 घंटे जंगल में ही पड़े होने के बाद ग्रामीण उसे उपचार के लिए पीएचसी देवाल लाए जहां पर उसका प्राथमिक उपचार किया गया। पीएचसी के प्रभारी डॉ सहजाद अली ने बताया कि घायल का उपचार किया गया। किंतु उसके सर पर लगी चोट के कारण उसे जांच के लिए हाई सेंटर रेफर कर दिया हैं।इधर देवाल के ब्लाक प्रमुख दर्शन दानू ने वन विभाग से मानव एवं वन्य जीवों के बीच बढ़ रहे संघर्ष को रोकने के लिए आवश्यक कार्रवाई की मांग की। इसके साथ ही घायल को तत्काल राहत दिए जाने की मांग भी वन विभाग से की हैं।

About आंखें क्राइम पर

Avatar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*