Breaking News
Home / More / रोजगार सहायक पृथ्वी चंद यादव की दबंगई शासन के निर्देशों को ताक पर रखकर नाबालिक बच्चे/ बच्चियों से करवाया जा रहा है काम

रोजगार सहायक पृथ्वी चंद यादव की दबंगई शासन के निर्देशों को ताक पर रखकर नाबालिक बच्चे/ बच्चियों से करवाया जा रहा है काम

बलरामपुर कुसमी

रोजगार सहायक पृथ्वी चंद यादव की दबंगई शासन के निर्देशों को ताक पर रखकर नाबालिक बच्चे/ बच्चियों से करवाया जा रहा है काम

नवनीत पांडेय
जिला ब्यूरो
बलरामपुर

कुसमी विकासखंड क्षेत्र के ग्राम पंचायत वेतपानी में नाबालिक बच्चियों से कराया जा रहा है पुलिया निर्माण कार्य में काम जबकि प्रशासन का स्पष्ट निर्देश है कि 18 वर्ष से कम उम्र बच्चे/बच्चियों को काम पर नहीं लगाया जाए। लेकिन यहां तो बेतपानी के रोजगरसहायक के द्वारा प्रशाशन के निर्देशों का खुलेआम धजिया उड़ाया जा रहा है।

गुणवत्ता विहीन पुलिया निर्माण कार्य किया जा रहा

पुलिया निर्माण कार्य में काम करने वाले मिस्त्रीयो एवं मजदूरों से मटेरियल की मात्रा की जानकारी पूछी गई तो वहां उपस्थित मजदूरों ने कहा पुलिया में इस्तेमाल होने वाले मटेरियल 6/1 का मसाले से बनाया जा रहा है। इससे साफ जाहिर होता है कि पुलिया निर्माण कार्य में गुणवत्ता विहीन मटेरियल का इस्तेमाल किया जा रहा है।

जबकि इसकी जानकारी जनपद सीईओ को बताई गई तो

जनपद सीईओ के द्वारा आश्वासन दिया गया कि अभी पुलिया निर्माण कार्य को रोकने को कह देता हूं। जब मेरे द्वारा जांच की जाएगी उसके बाद ही कार्य पूर्ण होगा। लेकिन दूसरे दिन ही कार्य को आनन-फानन में पूर्ण कर दिया गया। पुलिया निर्माण कार्य को रोकने के बजाय उसे दूसरे दिन ही ढलवा दिया गया।

पुलिया निर्माण कार्य में प्रशासन की लापरवाही

प्रशासन की लापरवाही की वजह से ग्राम पंचायत में होने वाले छोटे-छोटे कार्य निर्माण एजेंसियों द्वारा पुलिया निर्माण में बोल्डर एवं गुणवत्ता विहीन सामग्रियों का इस्तेमाल कर निर्माण कार्य को भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ाने में कोई कसर नहीं छोड़ी रही है।

काम करवाने के बाद नहीं दिया जाता है पुरी मजदूरी

पुलिया निर्माण कार्य में काम कर रहे मजदूरों के द्वारा बताया गया कि रोजगार सहायक के द्वारा काम तो करवाया जाता है लेकिन उन्हें पूरी मजदूरी नहीं दी जाती है और यह भी मजदूरों को उसकी मजदूरी नहीं बताई जाती है, उनकी रोज की मजदूरी कितनी है। उन्हें यह भी पता नहीं है। उन्होंने यह भी बताया कि हफ्ता 10 दिन काम करवाने के बाद उन्हें मात्र ₹500 दिए गए हैं।

10 लाख की पुलिया को 4 लाख का बताया बेतपानी के
सरपंच पति ने

विकासखंड कुसमी के ग्राम पंचायत बेतपानी के सरपंच पति से जब पुलिया के बारे में जानकारी चाही गई तो उनके द्वारा यह बताया गया कि यह पुलिया चार लाख की है जबकि पूर्व सरपंच, जनपद सीओ एवं कार्य कर रहे रोजगार सहायक के मुंशी के द्वारा बताया गया कि पुलिया 10 लाख का है।

About आंखें क्राइम पर

Avatar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*