शासकीय भूमि पर अतिक्रमण करने वालो के विरूद्ध होगी सख्त कार्यवाही-कलेक्टर

शासकीय भूमि पर अतिक्रमण करने वालो के विरूद्ध होगी सख्त कार्यवाही-कलेक्टर
300 दिवस से अधिक लंबित प्रकरणों तत्काल निराकरण कराएं संबंधित अधिकारी-कलेक्टर, समिति प्रबंधक चन्नौडी को निलंबित करने के दिए निर्देश, समय-सीमा की बैठक सम्पन्न
शहडोल |
कलेक्टर कार्यालय के सभागार में आज कलेक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट डॉ. सतेन्द्र सिंह ने उपस्थिति में समय-सीमा की बैठक में सम्पन्न हुई। बैठक में कलेक्टर ने सभी अनुविभागीय अधिकारी राजस्व को निर्देशित किया कि शासकीय भूमि पर अतिक्रमण करने वालो, अवैध रेत, कोयला उत्खनन, शराब एवं ड्रग माफियाओं के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही करें। उन्होंने कहा कि जिले के जिन अदतन अपराधियों का पुलिस रिकॉर्ड है और जिन पर जिला बदर की कार्यवाही की जा रही है उनके द्वारा यदि शासकीय भूमि पर अवैध अतिक्रमण, खनिजो का उत्खनन किया जा रहा है तो उनके विरूद्ध सख्त से सख्त कार्यवाही की जाएं। कलेक्टर ने कहा कि माफियाओं को बक्षा न जाएं। बैठक में कलेक्टर ने उपायुक्त सहकारिता श्रीमती शकुन्लता ठाकुर को निर्देशित किया कि धान उर्पाजन केन्द्र चन्नौडी के समिति प्रबंधक का धान उर्पाजन, खरीदी एवं परिवहन के कार्य में उदासीनता तथा शासकीय कार्य में लापरवाही के कारण निलंबित करने के निर्देश दिए।
कलेक्टर ने मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत को निर्देशित किया कि जिले में जिन पात्र हितग्राहियों को वनाधिकार पट्टा दिया गया है और उन्हें पंचायत एवं विकास से जिन कल्याणकारी योजनाओं जैसे- पीएम किसान, सीएम किसान या अन्य का लाभ दिया गया है उसे भी सूचीबद्ध करना सुनिश्चित करें। बैठक में कलेक्टर ने आयुष्मान कार्ड की प्रगति समीक्षा करते हुए कहा कि मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी एवं सभी सीएमओ नगर पालिका, नगर पंचायत तथा जिले के सभी मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत आयुष्मान काडे बनाने में गति लाएं। आयुष्मान कार्ड हर पात्र हितग्राही का बनबाना सुनिश्चित करें।
बैठक में कलेक्टर ने 04 फरवरी 2021 को होने वाली कलेक्टर एवं कमिष्नर कान्फ्रेंस के संबंध में मद्देनजर एजेण्डावार समीक्षा करते हुए मिलावट के विरूद्ध और सघन कार्यवाही, धान परिवहन एवं किसानो का भुगतान का कार्य पूर्ण करने, नवीन पात्रता पर्ची का शत-प्रतिशत सत्यापन, व जल जीवन मिशन, भू-जल योजना सभी में प्रभावी कार्यवाही करते हुए प्रगति सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने सीएम ऑनलाइन, समाधान ऑनलाइन के लंबित प्रकरणो की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए कि रूचि लेकर लंबित प्रकरणो का निराकरण कराना सुनिश्चित करें। बैठक में कलेक्टर ने सभी अधिकारियों को निर्देशित किया कि सीएम ऑनलाइन, समाधान ऑनलाइन, विभागीय जनहितकारी योजनाओं आदि का फोल्डर अपने साथ रखें।
बैठक में कलेक्टर ने जनपद पंचायत सोहागपुर के निरीक्षण के दौरान व्याप्त गंदगी एवं अव्यवस्था को देखकर नाराजगी व्यक्त करते हुए मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत सोहागपुर को कारण बताओं नोटिस देने के निर्देश संयुक्त कलेक्टर श्री दिलीप पाण्डेय को दिए। बैठक में कलेक्टर ने जिला आपूर्ति नियंत्रक को निर्देशित किया कि डीएम नान, उपायुक्त सहकारिता, जिला प्रबंधक सहकारी बैंक के साथ उन धान उर्पाजन केन्द्रों का भ्रमण करें जहॉ धान का अभी परिवहन नही किया गया है। साथ ही यह सुनिश्चित करें कि सभी किसानो को उनके द्वारा बेचे गए धान का भुगतान कर दिया गया है। कलेक्टर ने कहा कि भ्रमण के दौरान नवीन पात्रता पर्ची का भी सत्यापन कराना सुनिश्चित करें।
समय-सीमा की बैठक में महिलाओं तथा कमजोर वर्गो, कानून व्यवस्था का उल्लंघन वाले एवं मफियाओं के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही सुनिश्चित करने के लिए पुलिस विभाग के अधिकारियों से समन्वय स्थापित कर सभी अनुविभागीय अधिकारी राजस्व एवं जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास को निर्देश देते हुए कहा कि महिलाओं एवं कमजोर वर्गों के विरूद्ध दर्ज प्रकरणों का गहन परीक्षण करें एवं कड़ी कार्यवाही करवाना भी सुनिश्चित करें। कलेक्टर ने जिला आबकारी अधिकारी एवं खनिज अधिकारी को निर्देशित किया है कि जिनके विरूद्ध उन्होंने कार्यवाही की है उसकी एक सूची पुलिस अधीक्षक शहडोल को भी उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें।
बैठक में कलेक्टर ने जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास अधिकारी को निर्देशित किया कि पुलिस विभाग से समन्वय स्थापित कर महिलाएं जो अपराधियों के चंगुल से मुक्त करायी गई है एवं महिलाओं के विरूद्ध किए गए अपराधो की जानकारी तैयार करें। कलेक्टर ने लोक सेवा प्रबंधक श्री अवनीष दुबे को निर्देशित किया कि 30 जनवरी को उन जिला कार्यालयों में बैठक सायं 05.00 बजे आयोजित करें जो सीएम ऑनलाइन एवं समाधान ऑनलाइन प्रकरणों के निराकरण में जिले में निचले पायदान पर है। कलेक्टर ने बैठक में निर्देश दिए कि नगरीय निर्वाचन 2021 के मद्देनजर जिन कार्यालयों का डाटावेज निर्वाचन कार्यालय को उपलब्ध नही कराया गया है, उस विभाग के कार्यालय प्रमुख का वेतन रोका जाएं। कलेक्टर ने कार्यपालन यंत्री आरईएस एवं उप संचालक पशु चिकित्सा को निर्देशित किया कि बडी गौषाला निर्माण भूमि के लिए आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित करें।
आयोजित बैठक में संयुक्त कलेक्टर श्री दिलीप पाण्डेय, कार्यपालन यंत्री जल संसाधन विभाग श्री एच.सी. धुर्वे, जिला विपणन अधिकारी श्री व्ही.पी. तिवारी, उप संचालक कृषि श्री आर.पी. झारिया, सर्व शिक्षा समन्यक डॉ. मदन त्रिपाठी, जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास श्री मनोज लरोकर, एलडीएम श्री एस.सी. मांझी, सहायक संचालक मत्स्य श्री संतोष चौधरी, खनिज अधिकारी सुश्री फरहत जहॉ, सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*