Breaking News
Home / More / जिले में अवैध रेत उत्खनन ,परिवहन एवं भंडारण पर प्रभावी रोकथाम हेतु आठ जांच चौकियां स्थापित

जिले में अवैध रेत उत्खनन ,परिवहन एवं भंडारण पर प्रभावी रोकथाम हेतु आठ जांच चौकियां स्थापित

जिले में अवैध रेत उत्खनन ,परिवहन एवं भंडारण पर प्रभावी रोकथाम हेतु आठ जांच चौकियां स्थापित
राजस्व , खनिज एवं पुलिस की संयुक्त टीम द्वारा लगातार की जा रही है सघन मॉनिटरिंग
सीसीटीवी कैमरों से 24 घंटे निगरानी
होशंगाबाद जिला प्रशासन द्वारा अवैध रेत उत्खनन, परिवहन एवं भंडारण पर प्रभावी रोकथाम तथा खनिज निगम से अनुबंधित वैध ठेकेदार को नियमानुसार संरक्षण प्रदान करने के लिए प्रभावी कार्यवाही सुनिश्चित कराई गई है। प्रशासन द्वारा ना केवल वैध ठेकेदार को नियमानुसार कार्य हेतु समुचित संरक्षण प्रदान किया जा रहा है बल्कि रेत माफियाओं पर आपराधिक प्रकरण दर्ज करने सहित जिला बदर की कार्रवाई भी की गई है। अवैध माइनिंग पर प्रभावी नियंत्रण के लिए जिले मे स्थापित आठ जांच चौकियों पर सीसीटीवी कैमरों के माध्यम से 24 घंटे सघन निगरानी की जा रही है ।
उल्लेखनीय है कि जिला प्रशासन द्वारा तत्परता पूर्वक कार्रवाई कर जिले की 48 रेत खदानों की खनन योजना को अनुमोदित की गई है। जिसमें से ठेकेदार द्वारा 20 खदानों की पर्यावरण सम्मति प्राप्त कर रेत निकासी कार्य किया जा रहा है। प्रशासन की सक्रिय निगरानी में निगम से अनुबंधित खदानों पर रेत उत्खनन का कार्य सतत रूप से जारी है जिससे शासन को प्राप्त होने वाली रॉयल्टी में गुणोत्तर वृद्धि हो रही है। जिला खनिज अधिकारी ने बताया कि निगम से अनुबंधित रेत ठेकेदार द्वारा कार्य प्रारंभ करने से शासन को प्राप्त रॉयल्टी में लगातार वृद्धि हुई है।
कलेक्टर श्री धनंजय सिंह के निर्देशन पर अवैध माइनिंग पर प्रभावी रोक के लिए राजस्व , खनिज एवं पुलिस की संयुक्त टीम द्वारा सतत निगरानी एवम कार्यवाही की जा रही है। साथ ही जिले में 8 जांच चौकियां स्थापित की गई है, जो कि होशंगाबाद तहसील अंतर्गत भोपाल तिराहे व हरदा टोलनाका पर ,सिवनीमालवा तहसील में आंवलीघाट पुल एवं पगढाल टोल नाके पर, तहसील बाबई में नसीराबाद ,पिपरिया तहसील में सांडियापुल के पास , बनखेड़ी में मालनवाडा तथा केसला में सूखतावा क्षेत्र में इस तरह कुल 8 जांच चौकियां स्थापित की गई जिनके द्वारा लगातार वाहनों की सघन जांच की जा रही है।

अवैध माइनिंग के प्रकरणों में 188 एफआईआर एवं 288 करोड़ राशि का अर्थदंड अधिरोपित
जिले में अवैध माइनिंग पर प्रभावी नियंत्रण किया गया है। उल्लेखनीय है कि अवैध रेत उत्खनन, परिवहन एवं भंडारण के विरूद्ध कार्यवाही में अभी तक 188 प्रकरणों में आपराधिक प्रकरण एफ आई आर दर्ज की गई है। साथ ही आरोपियों पर लगभग 288 करोड़ रुपए का अर्थदंड अधिरोपित किया गया है। राजस्व एवं प्रशासन की संयुक्त टीम द्वारा अवैध रेत का उत्खनन, परिवहन एवं भंडारण करते पाए जाने पर कुल 1204 वाहन जप्त किए गए है।
अवैध रेत के उत्खनन परिवहन एवं भंडारण के खिलाफ कठोर कार्रवाई करने के निर्देश सभी एसडीएम ,तहसीलदार तथा खनिज एवं पुलिस विभाग के अधिकारियों को दिए गए है। ज़िला टास्क समिति की बैठकों में लगातार इसकी मॉनिटरिंग की जा रही है ।

होरियापिपर रेत खदान में उपद्रव करने वाले आरोपियों के विरुद्ध एफआईआर दर्ज, एक आरोपी तत्काल गिरफ्तार
प्रशासन की सक्रिय निगरानी में निगम अनुबंधित खदानों पर निर्बाध रूप से काम जारी

होशंगाबाद 29 जनवरी 2021/विगत दिवस हुरियापिपर रेत खदान में हुई घटना पर उपद्रव करने वालों के विरुद्ध जिला प्रशासन द्वारा कड़ा एक्शन लिया गया है। रेत खदान में हुई घटना पर पुलिस द्वारा फरियादियों की शिकायत पर उपद्रवियों के विरूद्ध थाना रामपुरगुर्रा इटारसी में एफआईआर दर्ज कराई गई एवं एक आरोपी को तत्काल गिरफ्तार किया गया है। ज्ञातत्व है कि जिला प्रशासन की सक्रिय निगरानी में खनिज निगम द्वारा अनुबंधित रेत खदानों पर खनिज विकास निगम से अनुबंधित ठेकेदार द्वारा निर्बाध रूप से काम किया जा रहा है। जिला खनिज अधिकारी श्री शशांक शुक्ला ने बताया कि जिला प्रशासन द्वारा वैध ठेकेदार को पूर्ण सहयोग एवं संरक्षण प्रदान किया गया है।जिले में अनुबंधित रेत खदानों से ठेकेदार द्वारा नियमानुसार रेत उत्खनन कार्य जारी है।
कलेक्टर श्री धनंजय सिंह ने राजस्व, खनिज एवं पुलिस विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया है कि अवैध रेत माफियाओं के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए एवं वैध ठेकेदार को पूरा संरक्षण प्रदान किया जाए। वैध उत्खनन एवं परिवहन में अवरोध उत्पन्न ना हो यह सुनिश्चित करें। उन्होंने सख्त निर्देश दिए हैं कि वैध उत्खनन एवं परिवहन कार्य में बाधा उत्पन्न करने वालों के विरुद्ध सख्त कार्यवाही की जाए। किसी भी स्तर पर लापरवाही पाए जाने पर संबंधित अधिकारी कर्मचारी के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

About आंखें क्राइम पर

Avatar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*