उच्च रक्तचाप दिवस पर जिले के अलग-अलग क्षेत्रों में कार्यक्रम सम्पन्न

उच्च रक्तचाप दिवस पर जिले के अलग-अलग क्षेत्रों में कार्यक्रम सम्पन्न
सभी स्वास्थ केंद्रों पर नि:शुल्क परीक्षण और दवाइयों का वितरण किया गया
भोपाल | 17-मई-2021
0

उच्च रक्तचाप दिवस के अवसर पर जिले के अलग-अलग क्षेत्रों में कार्यक्रम सम्पन्न हुए। इस अवसर पर उच्च रक्तचाप की बीमारी से बचाव, खानपान की सावधानियों, उपचार के बारे में लोगों को समझाइश दी गई।
उच्च रक्तचाप की समस्या प्रायः अधिक उम्र के लोगों में देखी जाती थी किन्तु आज के समय में युवाओं में भी यह समस्या बहुतायत हो गई है। परिवार के सदस्यों में उच्च रक्तचाप, अधिक वजन या मोटापा, शराब, धूम्रपान, गुर्दे की बीमारी, तनाव, नमक का अत्यधिक सेवन से उच्च रक्तचाप की समस्या हो सकती है। संतुलित आहार और नियमित दिनचर्या अपनाकर इस बीमारी से बचा जा सकता है। असंचारी रोग नियंत्रण कार्यक्रम के अंतर्गत जिले में प्राथमिक स्वास्थ केंद्रों और उप स्वस्थ केंद्रों पर क्रिक्रम आयोजित किए गए जिसमे लोगो की ब्लड प्रेशर की जांच, मानसिक संतुलन और अच्छा खानपान के संबंध में जानकारी भी दी गई। सभी स्वास्थ केंद्रों में निशुल्क स्वास्थ परिक्षण के साथ रक्चाप की नियमित जाँच एवं दवाइयों की नि:शुल्क सुविधा प्रदान की जा रही है। मरीजों का नियमित रूप से फ़ॉलोअप आशा कार्यकर्ताओं द्वारा किया जा रहा है।
कोविड महामारी के दौरान ई-संजीवनी ओपीडी के द्वारा घर बैठे चिकित्सकीय सलाह की सुविधा प्रदान की जा रही है। इस सुविधा के लिए गूगल प्ले स्टोर से ई-संजीवनी ओपीडी नेशनल टेलीकन्सल्टेशन सर्विस डाउनलोड कर घर बैठे चिकित्सकीय परामर्श प्राप्त किया जा सकता है।
हेल्थ एंड वेलनेस केंद्रों के माध्यम से उच्चरक्त चाप के मरीजों का फ़ॉलोअप किया जायेगा एवं यह सुनिश्चित किया जाएगा कि प्रत्येक मरीज को उनकी दवाइयों की पूरी खुराक उपलब्ध हो और वे उसका सेवन नियमित रूप से करें।
60 वर्ष से अधिक उम्र के हितग्राहियों को उनके घर पर ही दवाईयों की उपलब्धता सीएचओ, एएनएमएम पी डब्लू द्वारा चिकित्सक के प्रिस्क्रिप्शन के अनुरूप उपलब्ध करवाया जायेगा।
असंचारी रोग नियंत्रण कार्यक्रम के अंतर्गत 30 वर्ष से अधिक उम्र के प्रत्येक व्यक्ति की रक्तचाप की जांच की जाती है इसी प्रकार भोपाल जिले में संचालित इंडिया हाइपरटेंशन कंट्रोल इनिशिएटिव कार्यक्रम के अंतर्गत 18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों के रक्तचाप की जांच के लिए विशेष कार्यक्रम हुआ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*