महिलाओं पर रहती है पिपरी थाने के अखिलेश सिपाही की नजर

महिलाओं पर रहती है पिपरी थाने के अखिलेश सिपाही की नजर

पिपरी थाना में खाना बनाने वाले फॉलोअर ने अखिलेश सिपाही के कारनामों की पुलिस कप्तान से की शिकायत

कौशाम्बी।*पिपरी थाना में तैनात एक सिपाही के कारनामे से थाने में खाना बनाने वाले फलोंअर और उसकी पत्नी परेशान है। आधी रात को सिपाही फॉलोअर के कमरे का दरवाजा खुलवाता है। कई बार फालोवर ने उसके इस कारनामे पर मना किया लेकिन सिपाही गाली – गलौज अभद्रता करने लगता है और मारपीट लड़ाई झगड़े पर आमादा हो जाता है। आधी रात को दरवाजा खुलवाने वाले सिपाही अखिलेश का साथ दो अन्य सिपाही भी देते हैं। मामले को लेकर फालोवर पत्नी के साथ पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचा है और थाने के सिपाही के साथ दो अन्य सिपाहियों के कारनामे को बताते हुए पुलिस अधीक्षक से न्याय की मांग की है।

पिपरी थाना क्षेत्र के मखऊपुर गांव निवासी अमित कुमार पिपरी थाना में फ़ॉलोअर और चौकीदारी का काम करता है। मखऊपुर गांव निवासी पीड़ित अमित कुमार पत्नी के साथ पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचकर पुलिस अधीक्षक को शिकायती पत्र देते हुए बताया कि कई दिनों से रात के अंधेरे में जब सभी लोग सो रहे होते हैं तो गुपचुप तरीके से पिपरी थाने का सिपाही अखिलेश बेवजह उसके घर जाकर दरवाजा खुलवाता है। उक्त सिपाही कई बार ऐसा कारनामा कर चुका है। उसकी नियत साफ नहीं है। उसे मना किया जाता है तो वह झगड़ा करता है और दरवाजा ना खोलने पर गाली- गलौज कर झूठे मुकदमे में फंसाकर जेल भेज देने की धमकी देकर चला आता है।

पिपरी थाने के दो अन्य सिपाही योगेश सिंह और विभूति शंकर त्यागी पर भी फॉलोअर दंपति ने उत्पीड़न का आरोप लगाया है। पीड़ित के द्वारा विरोध करने पर उक्त दीवान कुछ दिन शांत रहा लेकिन जैसे ही चौकीदार खाना बनाने के लिए पिपरी थाने गया उक्त दीवान के कमरे में रखा सत्ताइस हजार रुपए चौकीदार के द्वारा चोरी कर लिए जाने का आरोप लगाकर अपने दो साथियों के साथ मिलकर मारपीट कर पीड़ित चौकीदार से अपनी बात मनवाने में सिपाही लगे हुए हैं और बात ना मानने पर चोरी के आरोप में मुकदमा पंजीकृत कर जेल भेज देने की धमकी दे रहे हैं। पिपरी थाना में एकछत्र राज करने वाले सिपाहियों के कारनामे से पीड़ित चौकीदार पुलिस अधीक्षक से मिलकर शिकायती पत्र देते हुए मदद की गुहार लगाई है।

चायल तहसील से अम्बिकेश पाण्डेय की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*