अमानक उर्वरकों का विक्रय करने वालों के विरुद्ध लाइसेंस निरस्त एवं एफआईआर की कार्रवाई करें

अमानक उर्वरकों का विक्रय करने वालों के विरुद्ध लाइसेंस निरस्त एवं एफआईआर की कार्रवाई करें

किसानों के साथ धोखा करने वालों के विरुद्ध सख्त कार्यवाही की जाए

जमीनी स्तर पर सभी पात्र किसानों को योजनाओं का लाभ मिले

तीनों जिले में उर्वरकों की पर्याप्त उपलब्धता और सुचारू वितरण सुनिश्चित करें

अवैध उत्खनन एवं परिवहन के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए

यात्री वाहनों में सुरक्षा नियमों का गंभीरता से पालन सुनिश्चित कराएं

कमिश्नर नर्मदापुरम श्री मालसिंह ने दिए निर्देश

होशंगाबाद/08,दिसम्बर,2021/कृषि विकास से जुड़ी समस्त योजनाओं का मैदानी स्तर तक पात्र किसानों को लाभ मिले। कृषि से जुड़े विभाग आपसी समन्वय से योजनाओं का व्यापक प्रचार प्रसार सुनिश्चित करें। योजनाओं का लाभ एवं कृषि आदानो के वितरण में लापरवाही करने वालों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाए। यह निर्देश कमिश्नर नर्मदापुरम श्री मालसिंह ने कृषि एवं अन्य संबद्ध विभागों के संभागीय एवं जिला अधिकारियों को दिए हैं।कमिश्नर ने बुधवार को कमिश्नर कार्यालय के सभाकक्ष में कृषि , उद्यानिकी, पशुपालन, खाद्य, मत्स्य पालन ,खनिज एवं परिवहन विभाग अंतर्गत संचालित विभिन्न योजनाओं व कार्यक्रमों की विस्तार से समीक्षा की एवं आवश्यक निर्देश दिए।

कमिश्नर ने संयुक्त संचालक कृषि एवं तीनों जिले के उप संचालक कृषि को निर्देशित किया कि तीनों जिले में निजी विक्रेताओं एवं सहकारी समितियों पर उर्वरकों की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित करें। किसानों को उर्वरकों का सुचारू रूप से वितरण जारी रहे। निर्धारित दाम से अधिक कीमत पर बेचने वाले विक्रेताओं के विरुद्ध तत्काल एफआईआर दर्ज कराएं। अमानक उर्वरकों, बीज एवं कीटनाशक के खिलाफ की गई कार्रवाई की समीक्षा कर कमिश्नर ने सख्त निर्देश दिए कि अमानक उर्वरक , बीज एवं कीटनाशक का विक्रय करने वाले विक्रेताओं के खिलाफ लाइसेंस निलंबन एवं एफ आई आर की कार्रवाई की जाए। अमानक आदानों के खिलाफ कार्रवाई में संतोषजनक प्रगति न होने पर कमिश्नर ने उप संचालक कृषि बैतूल को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। कमिश्नर ने उर्वरक , बीज एवं कीटनाशक की दुकानों की सघन जांच करने के निर्देश कृषि विभाग के अधिकारियों को दिए। उन्होंने कहा कि ई कृषि यंत्र अनुदान एवं कस्टम हायरिंग सुविधा का दूरस्थ क्षेत्रों तक के किसानों को लाभ दिलाया जाना सुनिश्चित करें।

उद्यानिकी विभाग अंतर्गत संचालित राज्य पोषित योजनाओं, प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना, राष्ट्रीय कृषि विकास योजना, एकीकृत बागवानी विकास मिशन , नेशनल मिशन ऑन सस्टेनेबल एग्रीकल्चर आदि योजनाओं की कमिश्नर ने समीक्षा कर उद्यानिकी विभाग के अधिकारियों के निर्देशित किया कि उद्यानिकी से जुड़े किसानो को तीनो जिले में मृदा की संरचना के अनुरूप फसल लेने हेतु आवश्यक प्रशिक्षण जाए। उन्होंने कहा कि मैदानी स्तर तक इन योजनाओं का क्रियान्वयन दिखाई देने चाहिए ,वे स्वयं मौका निरीक्षण कर इन योजनाओं की जमीनी हकीकत जानेंगे।

कमिश्नर ने पशुपालन विभाग के अधिकारियों को गौशालाओं का बेहतर ढंग से संचालन सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने भारत सरकार की महत्वपूर्ण योजना राष्ट्रीय पशुधन मिशन, जिसमें इच्छुक प्रतिभागी कुक्कुट पालन ,बकरी पालन, सूकर पालन एवं चारा विकास का उधम स्थापित कर सकते हैं ,इसका व्यापक प्रचार-प्रसार सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। कमिश्नर ने मत्स्य विभाग अंतर्गत संचालित योजनाओं की समीक्षा कर तीनों जिले के मत्स्य अधिकारियों को विभाग अंतर्गत 10 वर्षीय तालाब निर्माण एवं सिंचाई जलाशय निर्माण के पट्टे वितरण का कार्य शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश दिए। उन्होंने सख्त निर्देश दिए कि पट्टे वितरण में किसी भी स्तर पर गलत अनुशंसा पाए जाने पर संबंधित के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

कमिश्नर ने 29 नवंबर से प्रारंभ धान खरीदी कार्य की समीक्षा कर तीनों जिले में सुव्यवस्थित रुप से खरीदी , परिवहन एवं भंडारण कार्य पूर्ण करने के निर्देश खाद्य एवं सहकारिता विभाग के अधिकारियों को दिए। खनिज विभाग की समीक्षा कर कमिश्नर ने तीनों जिले में अवैध उत्खनन एवं परिवहन के खिलाफ कड़ी कार्यवाही सुनिश्चित करने के निर्देश खनिज अधिकारियों को दिए। उन्होंने कहा कि वैध खदानों के सीमांकन, सीमा चिन्ह आदि प्रक्रिया पूर्ण होने के बाद ही नियमानुसार खनन कार्य हो ,यह सुनिश्चित करें। कमिश्नर ने परिवहन विभाग की समीक्षा कर तीनों जिले के परिवहन अधिकारियों को निर्देशित किया कि बिना परमिट एवं फिटनेस के कोई भी वाहन संचालित ना हो इसका विशेष ध्यान रखें। यात्री वाहनों में सुरक्षा नियमों एवं आवश्यक सावधानियों का कड़ाई से पालन किया जाए। स्कूल बस संचालकों की शिक्षा ,जनजाति कार्य विभाग आदि के साथ संयुक्त बैठक आयोजित कर उन्हें बस संचालन में आवश्यक सावधानियों की पालन करने की हिदायत दी जाए।

कमिश्नर ने उक्त सभी विभागों को सीएम हेल्पलाइन के प्रकरणों का शत प्रतिशत निराकरण करने के निर्देश दिए। साथ ही उन्होंने इन सभी विभागों को अपनी योजनाओं में विगत 5 वर्ष की उपलब्धियों की ग्रामवार एवं हितग्राहीवार जानकारी की रिपोर्ट देने के निर्देश दिए।

बैठक में संयुक्त आयुक्त श्री जी सी दोहर सहित उक्त विभागों के संभागीय एवं जिला अधिकारी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*