कोविड अनुग्रह योजना में अपूर्ण अथवा गलत आवेदन न भेजे- कलेक्टर डॉ पंकज जैन जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक सम्पन्न

कोविड अनुग्रह योजना में अपूर्ण अथवा गलत आवेदन न भेजे- कलेक्टर डॉ पंकज जैन
जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक सम्पन्न
धार | 14-दिसम्बर-2021

कोविड अनुगृह योजना में स्वास्थ्य विभाग की महत्वपूर्ण भूमिका है। डॉक्टर इसके बारे में अच्छे से जानकारी रखे। सभी बीएमओं वैक्सीनेशन का डाटा पोर्टल पर अपलोड करवाए। लिस्ट बनाकर टीकाकरण का टारगेट पूरा करें। मनावर, सरदारपुर तथा धामनोद इसमें अपनी स्पीड बढाए। जिन क्षेत्रों में प्रगति कम है, वहॉ लोगों को मोबीलाइजेशन कर टीकाकरण करवाएं। यह निर्देश कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने सोमवार को कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक में दिए। बैठक में कोविड अनुगृह योजना के अपूर्ण प्रकरण प्रस्तुत करने पर नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि पहले योजना के बारे में अच्छी तरह से पढ़ लें तद्नुसार कार्यवाही करें। इसमें किसी प्रकार की लापरवाही बर्दास्त नहीं की जाएगी। 17 सितम्बर को हुए महाअभियान टीकाकरण के व्यक्तियों का सेकेण्ड डोज का समय आ गया है, इसके लिए हर अनुभाग में सभी आवश्यक कार्यवाही की जाए। यह सुनिश्चित किया जाए कि ड्यू लिस्ट के सभी व्यक्तियों को सेकेण्ड डोज लगे। पंचायत चुनाव के दौरान बाहर गए व्यक्ति भी अपने क्षेत्र में आएगे, बीएलओं से लिस्ट लेकर उनको टारगेट कर उनका भी टीकाकरण करवाए। उन्होंने कहा कि अनमोल पोर्टल पर इंट्री को लगातार अपडेट किया जाए। जिन महिलाओं की डिलेवरी हुई है उनकी इंट्री अनमोल पोर्टल सुनिश्चित करे, ऐसी कोई महिला नहीं बचे जिनकी इंट्री अनमोल पोर्टल पर न हो। एएनसी रजिस्ट्रेशन में प्रगति लाए इसमें कोई लापरवाही न हो। जिन सीएचओं द्वारा अपने क्षेत्र में कार्य नहीं किया जा रहा है उन पर बीएमओं कार्यवाही करें। एएनएम तथा सीएचओ को इंट्री के लिए वर्क डिविजन करें। हिमोग्लोबिन चैकिंग में बीएमओं एएनएम की रिपोर्ट को क्रास चैक करें, गलत रिपोर्ट देने वालो पर नोटिस जारी करें। उन्होंने ऐनिमिया वैरिफिकेशन की गलत इंट्री पर नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि वास्तविक स्थिति ही दर्ज करें।
उन्होंने बीएमओं को निर्देश दिए कि अपने क्षेत्र में सिजेरियन ऑपरेशन करें, ताकि लोगों को कही और न जाना पडे। कानवन में सिजेरियन ऑपरेशन की व्यवस्थ्या सुनिश्चित की जाए। पोषण पुर्नवास केन्द्र में बच्चों की संख्या में इजाफा करें। इसके लिए महिला बाल विकास विभाग माता पिता से समन्वय कर कुपोषित बच्चों को पुर्नवास केन्द्र में भर्ती करने के लिए कन्वेंस करें। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी अपने सूचना तंत्र को अचूक बनाए। जिससे आवश्यकता पडने पर त्वरित कार्यवाही की जा सके। परिवार कल्याण कार्यक्रम के लिए डे फिक्स कर कार्यवही करें। अनमोल पोर्टल व एचएमआईएस पोर्टल पर दर्ज इंट्री में सामन्जस हो।
बैठक में अपर कलेक्टर सलोनी सिडाना, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी एम एल मालवीया, सभी बीएमओं सहित विभागीय अमला मौजूद था।

धार से शालू अग्रवाल की खास रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*