विश्व पृथ्वी दिवस के अवसर पर आयोजित हुई विभिन्न गतिविधियां

खंडवा जिले के सभी विकासखंडों के स्वयंसेवकों द्वारा विश्व पृथ्वी दिवस मनाया गया। इस अवसर पर पेंटिंग बनाकर व साफ-सफाई संबंधी क्रियात्मक गतिविधियों के माध्यम से बढ़ते प्रदूषण को रोकने, वनों की अंधाधुन कटाई न करने व अधिक से अधिक संख्या में वृक्षारोपण करने, पानी का अपव्यय न करने की गुजारिश की गई। नेहरू युवा केंद्र की जिला युवा अधिकारी श्रीमती पूजा कौशिक ने बताया कि पृथ्वी पर जीवन को कायम रखने में सबसे आवश्यक है कि पर्याप्त प्राकृतिक संसाधनों की उपलब्धता के साथ अनुकूल पर्यावरण बना रहे। इस महत्त्व को समझाने के लिए वर्ष 1970 से दुनिया के 192 देश प्रतिवर्ष 22 अप्रैल को विश्व पृथ्वी दिवस के रूप में मनाते आ रहे हैं। पर्याप्त प्राकृतिक संसाधन व अनुकूल पर्यावरण के बिना पृथ्वी पर जीवन बिल्कुल भी संभव नहीं है। इस अवसर पर जिला युवा अधिकारी श्रीमती कौशिक ने बताया कि हमारा यह कर्तव्य हो चला है कि हम पृथ्वी की सभी प्राकृतिक धरोहरों को बचाने के लिए अभी से सजग हो जाएं। जिस तरह से हम अपना जन्मदिवस मनाते हैं, ठीक उसी भाव के साथ हम सभी को 22 अप्रैल के दिन विश्व पृथ्वी दिवस मनाना चाहिए। जिस तरह से हम अपने जीवन को महत्त्व देते हैं, उसी तरह से पृथ्वी की अमूल्य धरोहरों के महत्त्व को समझने और उनके संरक्षण करने की भी जिम्मेदारी हमारी स्वयं की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*