किल्लौद के खंड स्तरीय स्वास्थ्य मेले में 639 मरीजों का हुआ उपचार

किल्लौद के खंड स्तरीय स्वास्थ्य मेले में 639 मरीजों का हुआ उपचार
आजादी के अमृत महोत्सव के अन्तर्गत सोमवार को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र किल्लौद में खण्ड स्तरीय स्वास्थ्य मेले का शुभारंभ किल्लौद जनपद पंचायत अध्यक्ष श्री पंकज पटेल, जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एन. के. सेठिया, बीएमओ डॉ. धर्मेन्द्र शर्मा एवं अन्य जनप्रतिनिधियों द्वारा मां सरस्वती व मां भारती के चित्र पर माल्यार्पण व दीप प्रज्जवलित कर किया। जनपद पंचायत अध्यक्ष श्री पटेल ने बताया कि स्वास्थ्य मेले में विभिन्न चिकित्सक विशेषज्ञों द्वारा सेवायें दी जा रही है, सरकार द्वारा चलाई जा रही आयुष्मान भारत योजना का लाभ लेवे जिनका कार्ड नहीं बना और पात्र हितग्राही है वे अपना कार्ड अवष्य बनाये। सरकार द्वारा टेली मेडिसिन के माध्यम से ग्रामीणों को इलाज की सेवाएं उपलब्ध कराई जा रही है। जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एन.के. सेठिया द्वारा कहा कि मेले में डिजिटल हेल्थ आई.डी. एवं आयुष्मान भारत के पात्र हितग्रहियों के आयुष्मान कार्ड बनाये जा रहे है। उन्होंने अपील की है कि कि जिन पात्र व्यक्तियों ने अभी तक अपना आयुष्मान कार्ड नही बनाया है वे आयुष्मान कार्ड अवश्य बनवायें। आयुष्मान कार्ड बन जाने से एक वर्ष में 5 लाख तक का शासकीय खर्च पर अधिकृत अस्पताल में निःषुल्क इलाज करवा सकते है।

खंड चिकित्सा अधिकारी डॉ. धर्मेन्द्र शर्मा ने बताया कि शिक्षा, सामाजिक न्याय, महिला एवं बाल विकास, आयुष विभाग एवं अन्य विभागों द्वारा सेवायें प्रदान की गई। चिकित्सा विशेषज्ञों द्वारा जांच, परीक्षण व उपचार कर निःशुल्क दवाईयां वितरित की गई। स्वास्थ्य मेले में मेडिकल कॉलेज एवं जिला चिकित्सालय खण्डवा के मेडीसिन डॉ. उत्कर्ष त्रिपाठी, स्त्री रोग डॉ. कोमल छाबड़ा, चर्म रोग डॉ. विनित सिंह, शिशु रोग डॉ. सौरभ जैन, नेत्र रोग डॉ. आनन्द ओनकर, मनोरोग डॉ. संजय इंगला, दंत रोग डॉ. अमरदीप, नाक-कान-गला रोग डॉ. अनुरूद्ध कौशल, हड्डी रोग डॉ. शैलेन्द्र चौहान व आयुष चिकित्सक द्वारा सेवायें दी गई। मेले में 639 मरीजों का निःशुल्क स्वास्थ्य परीक्षण एवं उपचार किया गया, जिसमें 276 महिला और 363 पुरूष मरीज शामिल है। मेले में 176 मरीजों की पैथोलॉजी जांच की गई। कुष्ठ के 3 मरीज खोजे, 12 खंखार मरीजों की जांच की गई। इसके अलावा 67 आयुष्मान कार्ड एवं 188 हेल्थ आई.डी. बनाये गये। मेले में रक्तदान 10 यूनिट, मोतियाबिंद के 20 मरीजों का चयन किया। आयुष विभाग द्वारा 61 मरीजों का उपचार किया गया। स्वास्थ्य मेले में हरदा के छात्रों ने स्वास्थ्य गीत के माध्यम से स्वस्थ कैसे रहे की प्रस्तुति दी गई। साथ ही स्वस्थ्य कार्यकर्ता द्वारा टी.बी. से बचाव संबंधी जानकारी गीत के माध्यम से दी गई। इस दौरान हेल्थ एवं वेलनेस गतिविधियों के अन्तर्गत आयुष विभाग द्वारा योगा के माध्यम से स्वस्थ कैसे रहे यह बताया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*