पथराव आगजनी से प्रभावित योगेश ने पाया वन बीएचके फ्लैट नए घर मे किया गृहप्रवेश

पथराव आगजनी से प्रभावित योगेश ने पाया वन बीएचके फ्लैट
नए घर मे किया गृहप्रवेश

खरगोन। शहर के भाटवाड़ी मोहल्ले के निवासी योगेश कानूनगो को आज गुरुवार को प्रशासन ने नए मकान में गृहप्रवेश कराया है। योगेश का मकान पूरी तरह जल गया था। योगेश कुछ दिनों से अपने परिचित के घर रह रहा था। नगर पालिका सीएमओ प्रियंका पटेल ने जानकारी देते हुए बताया कि योगेश अपने परिजनों के साथ आज खुशी के साथ गृहप्रवेश कर लिया है। जहां गृहप्रवेश किया है वह एक फ्लैट है जिनमें बड़ा सा हॉल, बेडरूम और एक किचन है साथ ही दो बालकनी है। तहसीलदार श्री योगेंद्र मौर्य ने जानकारी देते हुए बताया है कि योगेश को तात्कालिक रूप से 101100 रुपये की राशि दी गई है। इनके जैसे और प्रभावितों को मुख्यमंत्री स्वेच्छानुदान से राशि प्रदान करने के लिए अलग से प्रस्ताव भेजे गए है।

प्रारम्भिक सर्वे में 122 प्रभावितांे के खातों में पहुँची राशि, अभी और प्रकरण तैयार हो रहे है

खरगोन शहर में हुए उपद्रव में किसी का घर जला तो किसी की दुकान तो किसी की जीविका चलाने वाला वाहन। ऐसी परिस्थिति से प्रभावितों को निकालने के लिए प्रशासन भी अपने पूरे प्रयासों के साथ जुटा हुआ है। अब तक प्रभावित 122 नागरिकांे को कुल 62 लाख 68 हजार 419 रुपये की राशि बैंक खातों में भेजी है। प्रभावितों में कुछ ऐसे प्रभावित भी है जिनका घर पूरी तरह तबाह हो गया है या मकान की आंशिक रूप से क्षति हुई है। ऐसे कुल 26 प्रभावितों को तात्कालिक रूप से 101100-101100 रुपये प्रदाय किये गए है। तहसीलदार श्री योगेंद्र मौर्य ने जानकारी बताया कि प्रारम्भिक सर्वे के बाद अभी 122 प्रभावितों के बैंक खातों में राशि पहुँचाई गई है। वही सर्वे के बाद कुछ प्रभावितों में कार्यालय आकर आवेदन दिए है जिनको भी राशि देने को प्रक्रिया जारी है।

मुख्यमन्त्री स्वेच्छानुदान के लिए भेजें गए प्रस्ताव

तहसीलदार श्री मौर्य ने बताया कि प्रभावितों को अब तक शासन द्वारा प्राप्त 1 करोड़ की राशि के अतिरिक्त प्रभारी मंत्री, सांसद व विधायक स्वेच्छानुदान से राशि प्रदान की गई है। इसके अतिरिक्त अभी करीब 18 प्रभावितों के प्रस्ताव मुख्यमंत्री स्वेच्छानुदान के लिए भेजे गए है। वास्तव में अभी तक जो राशि प्रदान की गई है वो राशि अंतिम नहीं है। यह राशि तात्कालिक रूप से दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*