सभी जिला कलेक्टर भ्रष्टाचार पर जीरो टॉलरेंस की नीति का क्रियान्वयन करें सुनिश्चित – मुख्यमंत्री श्री चौहान गरीब का पैसा कोई खा नहीं पाए दोषी कर्मचारी-अधिकारियों की नौकरी तत्काल की जाए समाप्त बेहतर कार्य करने वाले अधिकारी-कर्मचारियों को जिला स्तर पर किया जाएगा सम्मानित गोहद के खारे पानी की समस्या

सभी जिला कलेक्टर भ्रष्टाचार पर जीरो टॉलरेंस की नीति का क्रियान्वयन करें सुनिश्चित – मुख्यमंत्री श्री चौहान गरीब का पैसा कोई खा नहीं पाए दोषी कर्मचारी-अधिकारियों की नौकरी तत्काल की जाए समाप्त बेहतर कार्य करने वाले अधिकारी-कर्मचारियों को जिला स्तर पर किया जाएगा सम्मानित गोहद के खारे पानी की समस्या
सभी जिला कलेक्टर भ्रष्टाचार पर जीरो टॉलरेंस की नीति का क्रियान्वयन करें सुनिश्चित – मुख्यमंत्री श्री चौहान गरीब का पैसा कोई खा नहीं पाए दोषी कर्मचारी-अधिकारियों की नौकरी तत्काल की जाए समाप्त बेहतर कार्य करने वाले अधिकारी-कर्मचारियों को जिला स्तर पर किया जाएगा सम्मानित गोहद के खारे पानी की समस्या का कलेक्टर करें समाधान मुख्यमंत्री श्री चौहान आँगनवाड़ियों के बच्चों के लिए जन-सामान्य से खिलौने लेने के उद्देश्य से भोपाल में निकलेंगे हाथ ठेला लेकर आँगनवाड़ियों के संचालन में जन-भागीदारी को प्रोत्साहित करने की आवश्यकता भिंड जिले के शुद्ध सरसों के तेल की राष्ट्रीय स्तर पर हो ब्रांडिंग मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रातः 6.30 बजे की भिंड जिले की समीक्षा

कटनी (20 मई)- मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि गरीब का पैसा कोई खा नहीं पाए, इसलिए सभी जिला कलेक्टर भ्रष्टाचार पर जीरो टॉलरेंस की नीति का क्रियान्वयन सुनिश्चित करें। विकास गतिविधियों और जन-कल्याण योजनाओं के क्रियान्वयन में भ्रष्टाचार, कार्य में विलंब और पैसा खाने की शिकायत मिलने पर दोषी अधिकारी-कर्मचारी की नौकरी तत्काल समाप्त की जाए। दोषियों के विरुद्ध कार्रवाई के लिए कलेक्टर स्वतंत्र हैं। साथ ही जो अधिकारी-कर्मचारी अच्छा कार्य कर रहे हैं, उन्हें प्रोत्साहित भी किया जाएगा। बेहतर कार्य करने वाले अधिकारियों को जिला स्तर पर कार्यक्रम कर सम्मानित किया जाएगा। अधिकारी-कर्मचारियों की शिकायतें मिलने और काम में ढिलाई पर एक्शन और अच्छे काम के लिए प्रोत्साहन की व्यवस्था का क्रियान्वयन होगा। मैं देर रात तक काम में लगा रहता हूँ, फिर सुबह 6ः30 बजे से जिलों से संवाद शुरू कर देता हूँ। यह प्रदेश के विकास और जन-कल्याण की तड़प है, जो इन गतिविधियों में अभिव्यक्त होती है। मुख्यमंत्री श्री चौहान शुक्रवार को प्रातः भिंड जिले में विकास योजनाओं और जन-कल्याणकारी कार्यक्रमों के क्रियान्वयन की वर्चुअल समीक्षा कर रहे थे। सहकारिता मंत्री श्री अरविंद भदौरिया, राजस्व एवं परिवहन मंत्री श्री गोविंद सिंह राजपूत और जनजातीय कार्य एवं अनुसूचित जनजाति मंत्री सुश्री मीना सिंह भी बैठक से वर्चुअली जुड़ी। भिंड के जिला कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक सहित अन्य प्रशासनिक अधिकारी भी वर्चुअली सम्मिलित हुए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बेहतर कार्य के लिए कलेक्टर भिंड की प्रशंसा की। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने भिंड जिले में पेयजल तथा जलापूर्ति की स्थिति की समीक्षा के दौरान कहा कि गोहद में खारे पानी की समस्या को कलेक्टर टॉस्क (चुनौती) के रूप में लें। गोहद को मीठा पानी उपलब्ध कराने के लिए राज्य शासन भी हरसंभव सहायता उपलब्ध कराएगा। गोहद को खारे पानी के स्थान पर मीठा पानी उपलब्ध करा कर भिंड कलेक्टर अपने कार्यकाल को भिंड के निवासियों की स्मृति में चिर-स्थाई बना सकते हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने जिले में संचालित जल-जीवन मिशन की गतिविधियों की जानकारी प्राप्त की और मिशन के कार्यों को गति देने के निर्देश दिए। बैठक में बताया गया कि जिले के 13 नगरीय निकायों में से 3 में पानी की अधिक समस्या है, जिसके निराकरण के लिए परिवहन की व्यवस्था की जा रही है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रधानमंत्री आवास योजना में शहरी क्षेत्र में मात्र 42.7 प्रतिशत कार्य होने पर चिंता जताते हुए कहा कि योजना के क्रियान्वयन में जो भी समस्याएँ आ रही हैं उनका तत्काल निराकरण किया जाए। शहरी क्षेत्रों में जहाँ भूमि की उपलब्धता कम है वहाँ मल्टी स्टोरी की व्यवस्था की जाए। ग्रामीण क्षेत्र में प्रधानमंत्री आवास में 88 प्रतिशत कार्य होने पर मुख्यमंत्री श्री चौहान ने संतोष व्यक्त किया। बैठक में बताया गया कि जिले में माफियाओं से 233 एकड़ भूमि मुक्त कराई गई है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि गरीबों को आवास उपलब्ध कराना राज्य शासन की प्राथमिकता है। यह सुनिश्चित किया जाए कि ग्रामीण और शहरी क्षेत्र में आवास आवंटन में विलम्ब नहीं हो। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि आवास प्लस के सभी हितग्राहियों को उनकी ओर से पत्र भेज कर आवास आवंटन की जानकारी दी जाए। साथ ही हितग्राहियों की सूचना पंचायतों में भी लगाई जाए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने जिले में राशन वितरण की स्थिति की समीक्षा की। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि आँगनवाड़ियों के संचालन में जन-भागीदारी को प्रोत्साहित करना आवश्यक है। एडाप्ट एन आँगनवाड़ी अभियान में अधिक से अधिक लोगों को आँगनवाड़ी गोद लेने के लिए प्रेरित किया जाए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि जन-भागीदारी को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से वे स्वयं आँगनवाड़ी के बच्चों के लिए जन-सामान्य से खिलौने लेने के लिए भोपाल में हाथ ठेला लेकर निकलेंगे। भिंड में भी आँगनवाड़ी में सहयोग करने के लिए जन-सामान्य को जागरूक करने के उद्देश्य से वातावरण निर्माण की गतिविधियाँ संचालित की जाएँ। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि भिंड पुरुषार्थियों का जिला है। यहाँ स्वच्छता के क्षेत्र में उदाहरण प्रस्तुत करने के लिए स्थानीय लोगों को आगे आना होगा। स्वच्छता, वृक्षा-रोपण, गौरव दिवस के आयोजन के लिए मुख्यमंत्री श्री चौहान ने विशेष गतिविधियाँ संचालित करने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि “एक जिला-एक उत्पाद“ में भिंड के सरसों के तेल की पहचान पूरे देश में स्थापित करने के लिए कार्य-योजना बनाई जाए। प्रयास यह हो कि यहाँ के सरसों के तेल की शुद्धता के आधार पर तेल का ब्रांड पूरे देश में स्थापित हो। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने भिंड में सैनिक स्कूल के लिए संचालित गतिविधियों, सीएम राइज स्कूल की जानकारी भी प्राप्त की। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अवैध रेत उत्खनन में लगे वाहनों को राजसात करने के निर्देश दिए तथा हर्ष फायरिंग के नुकसान के बारे में जन-सामान्य को जानकारी देकर इसके प्रचलन को कम करने वातावरण निर्मित करने की आवश्यकता बताई। बैठक में कानून-व्यवस्था की स्थिति के संबध में बताया गया कि अवैध शराब, मिलावटी सामग्री, अवैध उत्खनन के विरुद्ध कार्यवाइयाँ निरंतर जारी हैं। साथ ही सामाजिक पारिवारिक आयोजनों में होने वाले हर्ष फायर पर भी कार्यवाही की जा रही है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*