21 साल पहले पिता रहे अध्यक्ष, अब बेटा बना समाज अध्यक्ष 21 साल बाद हुए

21 साल पहले पिता रहे अध्यक्ष, अब बेटा बना समाज अध्यक्ष
21 साल बाद हुए रघुवंशी समाज में हुए अध्यक्ष चुनाव में बना संयोग
खरगोन। रघुवंशी समाज की बैठक मंगलवार रात कलश चौक स्थित धर्मशाला में हुई। यहां समाजजनों की मौजूदगी में समाज अध्यक्ष नियुक्ति का प्रस्ताव रखा गया, अध्यक्ष पद के लिए दो लोगों ने दावेदारी की, परम् पूज्य गुरुदेव 1008 विजयरामदास महाराज के सानिध्य में दोनों दावेदारों के बीच आपसी सहमति बनी और समाजसेवी दीपक परसराम डंडीर को रघुवंशी समाज का अध्यक्ष चुना गया।
अध्यक्ष चुने जाने पर डंडीर ने समाजजनों का आभार जताते हुए कहा कि रघुवंशी समाज धार्मिक एवं सांस्कृतिक महत्ता वाला समाज है। हमारा इतिहास गौरवशाली है। आप सभी वरिष्ठजनों के सहयोग से समाज में धार्मिक, सांस्कृतिक गतिविधियों के साथ सेवा कार्य को बेहतर ढंग से अंजाम देने का प्रयास करुंगा। रघुवंशी समाज की पहचान सशक्त एवं संगठित समाज के रुप में की जाती है। युवा पीढ़ी को समाज के गौरव को कायम रखने, मान. सम्मान बनाए रखने के प्रति जागरुक करने एवं समाज से जोडऩे की महती आवश्यकता है, इसके लिए सभी को प्रयास करना होगा। इससे समाज के साथ राष्ट्र भी विकास करेगा।
21 सालों से मंदिर कमेटी निभा रही थी दायित्व
मिली जानकारी अनुसार रघुवंशी समाज में 21 वर्षो बाद अध्यक्ष चयनित हुआ है। 21 वर्ष पूर्व दीपक डंडीर के पिता एवं पूर्व विधायक परसराम डंडीर इस पद का दायित्व निर्वाह कर चुके है, उसके बाद से ही समाज अध्यक्ष का पद खाली चल रहा था, मंदिर कमेटी के अध्यक्ष बाबूलाल रघुवंशी ही इस दायित्व को निभा रहे थे। इसे संयोग कहेंगे कि 21 साल बाद जब अध्यक्ष चुनने का समय आया तो पिता के बाद अब बेटा अध्यक्ष चुना गया। डंडीर के अध्यक्ष चुने जाने पर मंदिर समिति सहित समाजजनों ने हर्ष व्यक्त करते हुए बधाई दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*