सुशासन को साकार करने का सशक्त जरिया बने जनसुनवाई

*सुशासन को साकार करने का सशक्त जरिया बने जनसुनवाई*

*जिला कलेक्टर लोक बंधु ने की जिला स्तरीय जनसुनवाई*

बाड़मेर से वागाराम बोस की रिपोट

बाड़मेर, 21 जुलाई। त्रिस्तरीय जनसुनवाई में प्राप्त परिवेदनाओं पर अधिकारी गम्भीरता के साथ कार्यवाही कर उनका त्वरित एवं गुणवतापूर्ण निस्तारण सुनिश्चित करें। क्योंकि यह सरकार की सुशासन की परिकल्पना को साकार करने का एक सशक्त जरिया है। यह निर्देश जिला कलक्टर लोक बंधु ने गुरूवार को जिला स्तरीय जन सुनवाई के दौरान अधिकारियों को दिए। इस दौरान जिला पुलिस अधीक्षक दीपक भार्गव भी मौजूद रहें।
इस मौके पर जिला कलक्टर लोक बंधु ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा आमजन की परिवेदनाओं के त्वरित समाधान हेतु त्रिस्तरीय जन सुनवाई की व्यवस्था प्रारम्भ की गई है, जिसे गम्भीरता से लेते हुए ब्लॉक स्तरीय अधिकारी पंचायत स्तरीय जन सुनवाई का प्रभावी पर्यवेक्षण करें। साथ ही जीरो प्रकरण वाली पंचायत स्तरीय जन सुनवाई पर जवाबदेही तय करें। उन्होने कहा कि ग्राम पंचायत स्तर एवं उपखण्ड स्तर पर प्राप्त होने वाली शिकायतों की जॉच करवाकर पंचायत एवं उपखण्ड स्तर से समाधान योग्य समस्याओं का वहीं निस्तारण करें ताकि परिवादियों को जिला मुख्यालय तक नहीं आना पड़े।
कलेक्टर बंधु ने कहा कि आज की जन सुनवाई में प्राप्त प्रकरण अगली सुनवाई से पूर्व निपटाएं जाए। सरकारी रास्ते कहीं पर भी बन्द नहीं हो, अतिक्रमण होने पर त्वरित कार्यवाही कर हटाया जाए। उन्होने लम्पी स्कीन गायों की बीमारी के बारे में पशुपालको को जागरूक करने को कहा। उन्होने वर्षा के मौसम के मद्देनजर तालाब, नाडी, खडीन पर बोर्ड लगाने के निर्देश दिए।
इस दौरान जिला कलक्टर ने जन सुनवाई में आए परिवादियों की विभिन्न मुद्दों से जुडी परिवेदनाओं को धैर्य के साथ सुना तथा संबंधित अधिकारियों को त्वरित कार्यवाही कर परिवादियों को राहत पहुंचाने के निर्देश दिए। जन सुनवाई के दौरान हीरा की ढाणी निवासी सरूपाराम द्वारा गोचर भूमि अतिक्रमण मुक्त कराने, भीमथल निवासी कुंभाराम द्वारा पट्टे जारी करने, सिवाना निवासी रविन्द्र धारू द्वारा लीेज बढानंे, बाड़मेर निवासी संजय कुमार द्वारा आम रास्ता खुलवाने, बिशाला निवासी ईशाक द्वारा रोड़ ब्रेकर बनवाने, चौखला निवासी नागेशसिंह द्वारा भूमि का किराया नहीं देने, डूंगरों का तला निवासी चेनाराम द्वारा अतिक्रमण हटाने, पनावडा निवासी जोगाराम द्वारा रास्ता खुलवाने, पनावडा निवासी भीखाराम द्वारा नरेगा का भुगतान दिलाने, भूरटिया निवासी चम्पालाल द्वारा निजी टांके से पाइप लाइन हटाने समेत विभिन्न समस्याओं से जुड़े 40 प्रार्थना पत्र प्राप्त हुए जिन पर संबंधित अधिकारियों को आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए।
जन सुनवाई के दौरान विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित रहें। वहीं ब्लॉक स्तरीय अधिकारी वीसी के माध्यम से जुड़े रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*